NDTV Khabar

दिल्‍ली पुलिस ने 'बंद' की बुराड़ी कांड की फाइल, इस वजह से हुई थी 11 लोगों की मौत

बुराड़ी के चुंडावत (भाटिया) परिवार के 11 सदस्यों में सबसे बुजुर्ग नारायण देवी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि उसकी मौत भी परिवार के अन्य 10 सदस्यों की तरह ही फांसी पर लटकने से हुई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्‍ली पुलिस ने 'बंद' की बुराड़ी कांड की फाइल, इस वजह से हुई थी 11 लोगों की मौत

फाइल फोटो

नई दिल्ली: बुराड़ी के चुंडावत (भाटिया) परिवार के 11 सदस्यों में सबसे बुजुर्ग नारायण देवी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि उसकी मौत भी परिवार के अन्य 10 सदस्यों की तरह ही फांसी पर लटकने से हुई है. इससे पहले 10 लोगों की पोस्‍टमार्टम में भी गड़बड़ी की आशंका को खारिज करते हुए दिल्‍ली पुलिस का कहना था कि सभी 10 लोगों की मौत फांसी लगाने से हुई है.

बुराड़ी कांड: परिवार के रजिस्टर में कहा गया, वे अगली दीवाली नहीं देख सकेंगे

दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के सीएम अलोक कुमार ने बताया था कि डॉक्‍टरों द्वारा दी गई पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में किसी चोट का जिक्र नहीं है. इसका मतलब है कि सभी ने फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या की है. उन्‍होंने बताया कि 9 लोग ग्रिल पर फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या की थी जबकि एक महिला ने ग्रिल के पास फांसी लगाई थी. वहीं बुजुर्ग महिला का शव एक कमरे में मिला था. इस मामले में डॉक्‍टरों ने अपनी फाइनल रिपोर्ट सौंप दी है और इसमें किसी भी बाबा शामिल नहीं है. पुलिस इस मामले को लगभग बंद कर दिया है, बस उसे इस मामले में सभी मृतकों की बिसरा रिपोर्ट का इंतजार है. 

NDTV Special: बुराड़ी केस की अभी तक की कहानी, कब और क्या-क्या हुआ?

ज्‍वाइंट सीपी क्राइम ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रहा है कि परिवार खुद ही स्‍टूल और तार ला रहा है. दास्‍तावेजों से पता चला है कि पूजा एक बजे रात में शुरू की गई थी. उन्‍होंने कहा कि मामले की जांच जारी है और हम विसरा रिपोर्ट का इंतजार कर रहे है. इस मामले में साइको अटॉप्सी भी कराई जाएगी. 

बुराड़ी कांड: पुलिस जानना चाहती क्‍या है 11 पाइपों का 'राज'

उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 सदस्य एक जुलाई को एक साथ मृत पाये गये थे. इनमें से 10 के शव फंदे से लटक रहे थे, जबकि नारायणी देवी का शव मकान के दूसरे कमरे में फर्श पर पड़ा हुआ था. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट प्राप्त हो गई है. अधिकारी ने बताया कि नारायण देवी के शव के निकट एक बेल्ट मिली थी. उन्होंने बताया कि रिपोर्ट में किसी साजिश की आशंका से इनकार किया गया है और कहा गया है कि उसकी मौत लटकने के कारण हुई है्. पुलिस को परिवार के दस अन्य सदस्यों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पहले ही मिल गई थी.

NDTV EXCLUSIVE: बुराड़ी मामले को लेकर क्या डरा रहा है मीडिया!

अधिकारी ने कहा था कि चुंडावत परिवार के दस अन्य सदस्यों की पोस्टमार्टम रिपोर्टों में कहा गया है कि सभी की मौत लटकने से हुई है और कुछ खरोंचों के अलावा शवों पर चोट के कोई निशान नहीं पाये गये हैं.उन्होंने बताया, ‘अंतिम राय में कहा गया है कि परिवार के सदस्यों की मौत फंदे पर लटकने के कारण हुई है.’    

टिप्पणियां
नारायण देवी (77) की बेटी प्रतिभा (57) और दो पुत्र भवनेश (50) तथा ललित (45), भवनेश की पत्नी सविता (48) और उनके तीन बच्चे नीतू (25), मानिका (23) और धीरेन्द्र (15) मृतकों में शामिल हैं. मृत पाये गये अन्य लोगों में ललित की पत्नी टीना (42), उनका 15 वर्षीय पुत्र दुष्यंत और प्रतिभा की बेटी प्रियंका शामिल हैं. प्रियंका की पिछले महीने सगाई हुई थी और इस साल के अंत में उसकी शादी होनी थी. 

VIDEO: बुराड़ी केस की अभी तक की कहानी, कब और क्या-क्या हुआ?

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement