NDTV Khabar

बुराड़ी कांड: परिवार के रजिस्टर में कहा गया, वे अगली दीवाली नहीं देख सकेंगे
पढ़ें | Read IN

दक्षिणी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में चुंडावत परिवार से प्राप्त रजिस्टर में ‘भटकती आत्मा’ का जिक्र है. उसमें साथ ही आशंका जाहिर की गई है कि परिवार अगली दीवाली नहीं देख सकेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बुराड़ी कांड: परिवार के रजिस्टर में कहा गया, वे अगली दीवाली नहीं देख सकेंगे

फाइल फोटो

खास बातें

  1. रजिस्‍ट्रर ने आशंका जाहिर की गई है कि परिवार अगली दीवाली नहीं देख सकेगा
  2. ललित अपने पिता की तरह हरकतें करता था और नोट लिखवाया करता था.
  3. ललित ने परिवार के ‘कुछ हासिल’ करने में विफल रहने का जिक्र किया है
नई दिल्ली: दक्षिणी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में चुंडावत परिवार से प्राप्त रजिस्टर में ‘भटकती आत्मा’ का जिक्र है. उसमें साथ ही आशंका जाहिर की गई है कि परिवार अगली दीवाली नहीं देख सकेगा. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मृतकों में से एक ललित सिंह चुंडावत के शरीर में कथित तौर पर उसके पिता की आत्मा आती थी और इसके बाद वह अपने पिता की तरह हरकतें करता था और नोट लिखवाया करता था. 

NDTV Special: बुराड़ी केस की अभी तक की कहानी, कब और क्या-क्या हुआ?

रजिस्टर में 11 नवंबर , 2017 की तारीख में ललित ने परिवार के ‘कुछ हासिल’ करने में विफल रहने के लिए ‘किसी की गलती’ का जिक्र किया है. उसमें कहा गया है, “धनतेरस आकर चली गयी. किसी की पुरानी गलती की वजह से कुछ प्राप्ति से दूर हो. अगली दीवाली न मना सको. चेतावनी को नजरंदाज करने की बजाय गौर किया करो.”

बुराड़ी कांड: पुलिस जानना चाहती क्‍या है 11 पाइपों का 'राज'

टिप्पणियां
आपको बता दें कि मृतकों की पहचान नारायण देवी (77), उनकी बेटी प्रतिभा (57) और दो बेटे भावनेश (50) और ललित भाटिया (45) के रूप में हुई है. भावनेश की पत्नी सविता (48) और उनके तीन बच्चे मीनू (23), निधि (25) और ध्रुव (15), ललित भाटिया की पत्नी टीना (42) और उनका 15 वर्ष का बेटा शिवम , प्रतिभा की बेटी प्रियंका (33) भी मृत मिले. प्रियंका की पिछले महीने ही सगाई हुई थी और इस साल के अंत तक उसकी शादी होनी थी.

VIDEO: बुराड़ी केस की अभी तक की कहानी, कब और क्या-क्या हुआ?

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement