NDTV Khabar

'टॉक टू एके' कार्यक्रम की जांच के सिलसिले में CBI पहंची मनीष सिसोदिया के घर, बयान दर्ज किया

सीबीआई की ओर से जारी आधिकारिक जानकारी के मुताबिक, इस मामले में कुछ बिंदुओं पर स्पष्टीकरण के लिए जांच एजेंसी की टीम सिसोदिया के घर गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'टॉक टू एके' कार्यक्रम की जांच के सिलसिले में CBI पहंची मनीष सिसोदिया के घर, बयान दर्ज किया

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. उप मुख्यमंत्री कार्यालय ने इसे सीबीआई की छापेमारी कार्रवाई बताया.
  2. कुछ बिंदुओं पर स्पष्टीकरण के लिए टीम सिसोदिया के घर गई- सीबीआई
  3. यह मामला दिल्ली सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग से जुड़ा है.
नई दिल्‍ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने 'टॉक टू एके' कार्यक्रम से संबंधित काम के ठेके देने में कथित तौर पर हुई अनियमितता को
लेकर शुक्रवार को दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बयान दर्ज किए. सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा, "टॉक टू एके कार्यक्रम घोटाले में दर्ज प्राथमिकी की जांच के लिए अधिकारियों का एक दल सिसोदिया के आवास पर उनका बयान दर्ज करने के लिए गया".

हालांकि उप मुख्यमंत्री कार्यालय ने इसे सीबीआई की सिसोदिया के आवास पर छापेमारी की कार्रवाई बताया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के जनसंवाद अभियान के लिए सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा शुरू किए गए कार्यक्रम 'टॉक टू एके' में अनियमितताओं की शिकायतों पर सीबीआई ने यह कार्रवाई की.

सीबीआई की ओर से जारी आधिकारिक जानकारी के मुताबिक, इस मामले में कुछ बिंदुओं पर स्पष्टीकरण के लिए जांच एजेंसी की टीम सिसोदिया के घर गई थी. सीबीआई ने इसे छापेमारी बताए जाने का खंडन करते हुए कहा कि इसे 'छापामारी या छानबीन' नहीं कहा जा सकता है. सीबीआई ने 'टॉक टू एके' कार्यक्रम में एक निजी जनसंपर्क कंपनी को नियम विरूद्ध तरीके से लाभ पहुंचाने की पहल करने की शिकायत पर इस साल जनवरी में प्रारंभिक जांच (पीई) शुरू की थी.

यह मामला दिल्ली सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग से जुड़ा है, जिसके प्रभारी मंत्री सिसोदिया हैं. इससे पहले सिसोदिया के मीडिया सलाहकार अरूणोदय प्रकाश ने सिसोदिया के मथुरा रोड स्थित सरकारी आवास पर सीबीआई की छापेमारी की जानकारी देते हुए कहा कि 'एक तरफ मुख्यमंत्री केजरीवाल सरकारी अस्पतालों में मरीजों को मिल रही सुविधाओं का निरीक्षण कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर सीबीआई सिसोदिया के घर पर छापामारी कर रही है'.

टिप्पणियां
सीबीआई ने दिल्ली सरकार के सतर्कता विभाग की शिकायत पर इस मामले में पीई दर्ज की थी. सीबीआई के सूत्रों ने बताया कि नियमानुसार पीई की कार्रवाई के तहत छापामारी या छानबीन की ही नहीं जा सकती है. इस मामले की शिकायत में टॉक टू एके कार्यक्रम को लोकप्रिय बनाने का अभियान चलाने के लिये विभाग ने एक नामी जनसंपर्क कंपनी के सलाहकार की सेवाएं लेने का फैसला किया था. इस अभियान की एवज में विभाग द्वारा 1.5 करोड़ रुपये के भुगतान का प्रस्ताव भी तैयार किया गया. आरोप है कि विभाग के प्रमुख सचिव द्वारा इस प्रस्ताव पर आपत्ति जताये जाने के बावजूद सरकार ने उक्त प्रस्ताव को स्वीकार कर अभियान को आगे बढ़ाया. सीबीआई ने शिकायत पर पीई दर्ज कर सिसोदिया और अन्य की इस मामले में भूमिका की जांच कर रही है.

(इनपुट एजेंसियों से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement