NDTV Khabar

मेट्रो की सुरक्षा में तैनात CISF के जवानों ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, रुपयों से भरा बैग लौटाया

स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले दिल्ली मेट्रो रेल की सुरक्षा में मुस्तैद केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के सुरक्षाकर्मियों ने ईमानदारी की एक और मिसाल कायम की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मेट्रो की सुरक्षा में तैनात CISF के जवानों ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, रुपयों से भरा बैग लौटाया

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले दिल्ली मेट्रो रेल की सुरक्षा में मुस्तैद केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के सुरक्षाकर्मियों ने ईमानदारी की एक और मिसाल कायम की. CISF के ईमानदार जवानों ने इस बार हाथ लगे एक लाख रुपये से भरा बैग जिसका था, उसके हवाले कर दिया. सीआईएसएफ के प्रवक्ता सहायक महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह ने यह जानकारी दी. अर्धसैनिक बल के जवानों ने ईमानदारी की यह मिसाल 14 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले पेश की. प्रवक्ता ने बताया कि बुधवार को दोपहर बाद शिवाजी स्टेडियम मेट्रो स्टेशन पर एक संदिग्ध बैग जवानों को लावारिस हालत में स्कैनर में मिला. उन्होंने जब बैग को खोलकर देखा तो उसके अंदर एक लाख रुपये नगद और अन्य जरूरी चीजें थीं. 

दिल्ली के चांदनी चौक मेट्रो स्टेशन से CRPF की वर्दी पहने संदिग्ध हिरासत में, 2 सवालों में ही फंसा


सीसीटीवी फुटेज देखने से बैग के मालिक का पता चला. सीआईएसएफ कर्मियों ने आनन-फानन में बैग मालिक की तलाश शुरू कर दी. कुछ घंटों की मेहनत के बाद बैग के मालिक प्रवीण झा (30) मिल गए. वह द्वारका के रहने वाले हैं.सीआईएसएफ के जवानों ने उन्हें रुपयों सहित बैग लौटा दिया. 

दिल्ली मेट्रो स्टेशन पर बच्चों को छोड़ सुसाइड करने पटरी पर उतर गई मां, बेटे ने किया ऐसा...

टिप्पणियां

प्रवीण ने सुरक्षाकर्मियों को बताया कि वह भूलवश बैग स्कैनर में छोड़ आए थे. मेट्रो जब धौला कुआं के करीब पहुंची, तब उन्हें बैग कहीं छूट जाने का ख्याल आया. भारी रकम खो जाने से चिंतित प्रवीण ने सीआईएसएफ के जवानों का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने कहा, "अब मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि ईमानदारी अभी भी जिंदा है. 

Video: मुफ्त मेट्रो सफर पर ई श्रीधरन का दिल्ली सरकार को जवाब



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement