NDTV Khabar

नारेबाजी करते हुए माकपा कार्यालय में घुसे दो लोग | येचुरी बोले- संघ की गुंडागर्दी के आगे नहीं झुकेंगे

येचुरी ने कहा कि 'यह हमला असहमति की आवाज को दबाने के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रयास का हिस्सा है'.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नारेबाजी करते हुए माकपा कार्यालय में घुसे दो लोग | येचुरी बोले- संघ की गुंडागर्दी के आगे नहीं झुकेंगे

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी का फाइल फोटो...

खास बातें

  1. सीताराम येचुरी की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस से पहले दो लोग माकपा दफ्तर में घुसे.
  2. हमें चुप कराने के लिए संघ की गुंडागर्दी के आगे हम नहीं झुकेंगे- येचुरी
  3. यह भारत की आत्मा की लड़ाई है, जिसे हम जीतेंगे- सीताराम येचुरी
नई दिल्‍ली: माकपा महासचिव सीताराम येचुरी की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस से पहले दो लोग कथित तौर पर बुधवार को यहां पार्टी के कार्यालय में घुस गए और उन्होंने वाम पार्टी के खिलाफ नारे लगाए. पार्टी सूत्रों ने बताया कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने दोनों व्यक्तियों की पिटाई की और उन्हें पुलिस को सौंप दिया. अभी तक उनकी पहचान नहीं हो सकी है.

दोनों व्यक्तियों ने 'हिंदू सेना जिंदाबाद' और 'माकपा मुर्दाबाद' के नारे लगाए.

इस घटना के समय संयोग से, पार्टी महासचिव सीताराम येचुरी मीडिया से बात करने के लिए कार्यालय की पहली मंजिल पर सेन्ट्रल कमिटी मीटिंग हॉल में प्रवेश करने वाले थे.

टिप्पणियां
उन्हें माकपा की पोलितब्यूरो की दो दिवसीय बैठक के समापन के बारे में प्रेस को संबोधित करना था. बैठक में केरल के मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन की मौजूदगी के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने भारी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था. विजयन पशु वध से संबंधित केंद्र की हालिया अधिसूचना की आलोचना को लेकर कुछ दक्षिणपंथी संगठनों के निशाने पर हैं.

येचुरी ने कहा कि 'यह हमला असहमति की आवाज को दबाने के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रयास का हिस्सा है'. उन्होंने ट्वीट किया, "हमें चुप कराने के लिए संघ की गुंडागर्दी के आगे हम नहीं झुकेंगे. यह भारत की आत्मा की लड़ाई है, जिसे हम जीतेंगे".
 
(इनपुट एजेंसी से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement