NDTV Khabar

दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की रहस्यमयी मौत, जाल से लटके हुये मिले 10 शव

दिल्ली के बुराड़ी में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक ही घर में 11 शव मिले हैं. इनमें 7 महिला और 4 पुरुष शामिल हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की रहस्यमयी मौत, जाल से लटके हुये मिले 10 शव

बुराड़ी में एक ही घर में 11 शव मिले हैं. इनमें 7 महिला और 4 पुरुष शामिल हैं. मौके पर भीड़ इकट्ठा हो गई है.

खास बातें

  1. दिल्ली के बुराड़ी इलाके में मिला 11 शव
  2. 7 महिला और 4 पुरुषों के शव मिले हैं
  3. पुलिस को आत्महत्या का शक है और मामले की जांच की जा रही है
नई दिल्ली: दिल्ली के बुराड़ी में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक ही घर में 11 शव मिले हैं. इनमें 7 महिला और 4 पुरुष शामिल हैं. खबल मिलते ही दिल्ली पुलिस कमिश्नर, उसके बाद दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी और सीएम केजरीवाल भी घटनास्थल पर पहुंच गये हैं.  एक साथ इतने शव मिलने के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है. बताया जा रहा है कि परिवार फर्नीचर का काम करता था. हालांकि मौत किस वजह से हुई है, यह अभी साफ नहीं हो पाया है. सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस भी एक साथ इतने शव देखकर चौंक गई . कहा जा रहा है कि सभी शव एक ही परिवार के हैं और पुलिस को आत्महत्या का शक है. पड़ोसी गुरचरण सिंह ने बताया कि भाटिया परिवार की किराने की दुकान भी है. सुबह 6 बजे दुकान खुल जाती थी, लेकिन जब सवा सात बजे तक दुकान नहीं खुली तो वह घर के अंदर पहली मंजिल पर गए. वहां देखा कि परिवार के 10 सदस्यों की लाश जाल से लटकी हुई थी. जबकि सबसे बुजुर्ग महिला की लाश कमरे में पड़ी थी. वह घबराकर नीचे और पुलिस को सूचना दी. 

यह भी पढ़ें : दिल्ली के बुराड़ी में गैंगवार; एक महिला सहित तीन की मौत, पांच घायल

टिप्पणियां
मृतकों में बुजुर्ग महिला के अलावा उसके दो बेटे ललित और भूपी, दो बहू टीना और सविता, पोते-पोतियां नीतू, मोनू, ध्रुव, शिवम, बेटी बेबी और उसकी बेटी प्रियंका शामिल हैं. बताय जा रहा है कि प्रियंका की कुछ दिन पहले ही सगाई भी हुई थी. दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट सीपी ने कहा कि हम सभी बिंदुओं से मामले की जांच कर रहे हैं. अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है.  पुलिस अधिकारी ने कहा, "इनमें से कुछ फंदे से लटके मिले जबकि कुछ के शव जमीन पर पड़े हुए थे, जिनके हाथ और पैर बंधे हुए थे." अधिकारी ने कहा, "प्रथम दृष्टया हमें लगा कि इन्होंने आत्महत्या की है लेकिन हम हत्या के अन्य संभावित कोण से भी जांच कर रहे हैं. हम सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रहे हैं." अधिकारी ने बताया, "दुकान रोजाना सुबह छह बजे खुल जाती थी लेकिन जब आज सुबह 7.30 बजे तक दुकान नहीं खुली तो एक पड़ोसी ने इसका कारण जानने के लिए घर के भीतर देखा तो पाया कि घर के कई लोग आंगन की जाली से लटके हुए हैं. पड़ोसी ने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी."


यह भी पढ़ें : दिल्ली : पैरोल पर जेल से बाहर आए शख्स को बदमाशों ने दिनदहाड़े मारी गोली, मचा हड़कंप


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement