NDTV Khabar

बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की जांच करेगी क्राइम ब्रांच, जांच में आध्यात्मिक पहलू भी शामिल

घर में एक बुज़ुर्ग महिला का भी शव मिला. पुलिस के मुताबिक उनकी गला दबाकर हत्या की गई. पुलिस ने मृतकों के पोस्टमॉर्टम के लिए डॉक्टरों का एक बोर्ड बनाया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की जांच करेगी क्राइम ब्रांच, जांच में आध्यात्मिक पहलू भी शामिल

पुलिस को मौका-ए-वारदात से कोई सुसाइट नोट बरामद नहीं हुआ

खास बातें

  1. घर के लोग काफ़ी धार्मिक प्रवृत्ति के थे
  2. कई लोग पूजा की चुन्नियों से लटके मिले
  3. किसी पर भी बाहरी चोट के निशान नहीं मिले
नई दिल्‍ली: दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा यानी क्राइम ब्रांच राजधानी के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 सदस्यों की रहस्यमयी परिस्थितियों में हुई मौत की जांच करेगी. पुलिस ने इस मामले में पहले ख़ुदकुशी का शक़ जताया लेकिन शाम होते होते हत्या के आरोप में एफ़आईआर दर्ज कर दी. घर में एक बुज़ुर्ग महिला का भी शव मिला. पुलिस के मुताबिक उनकी गला दबाकर हत्या की गई. पुलिस ने मृतकों के पोस्टमॉर्टम के लिए डॉक्टरों का एक बोर्ड बनाया है. इस बीच ये मामला दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को दे दिया गया है. पुलिस को घर से कुछ खत भी मिले हैं जिससे इन मौतों के पीछे आध्यात्मिक पहलू से भी पुलिस जांच कर रही है.

दिल्ली के बुराड़ी इलाके की गली नंबर चार. रविवार को यहां का एक किराना स्टोर जब सुबह सात बजे तक नहीं खुला तो एक पड़ोसी गुरचरण सिंह ने घर का दरवाज़ा खटखटाया. दरवाज़ा खुला हुआ था. गुरचरण अंदर गए तो उनके पैरों तले ज़मीन खिसक गई. सामने जो ख़ौफ़नाक़ मंज़र था, उस पर उन्हें यकीन नहीं हुआ. घर के दस सदस्यों की लाशें इस दो मंज़िला इमारत की छत पर लगे लोहे के जाल से लटकी हुई थीं. जबकि एक बुज़ुर्ग महिला की लाश कमरे में पड़ी हुई, उनका गला घोट कर हत्या की गई थी.

मृतकों की पहचान भुवेश भाटिया, उनकी पत्नी सविता, दो बेटियां मेनका और निधि, एक बेटा ध्रुव, भुवेश के भाई ललित, ललित की पत्नी टीना, उनके बेटे शुभम, भुवेश की बहन प्रतिभा, प्रतिभा की बेटी प्रियंका और भुवेश की 75 साल की मां नारायणी के तौर पर हुई है. घर में पालतू कुत्ता उस लोहे के जाल के पास बंधा हुआ था जिससे शवों को लटकाया गया था.

पुलिस की अब तक की तफ़्तीश के मुताबिक घर का मुख्य दरवाज़ा खुला हुआ था, बाकी दरवाज़े भी खुले हुए मिले. जो शव लटके हुए मिले, उनके मुंह पर कपड़ा बंधा था और आवाज़ बंद करने के लिए रुई लगाई गई थी. घर में कोई सुसाइड नोट नहीं मिला. घर के लोग काफ़ी धार्मिक प्रवृत्ति के थे. कई लोग पूजा की चुन्नियों से लटके मिले. गले में निशाने के अलावा किसी पर भी बाहरी चोट के निशान नहीं मिले.

टिप्पणियां
VIDEO: दिल्ली के बुराड़ी में एक घर में मिले 11 शव, पुलिस को आत्महत्या का शक

पुलिस के मुताबिक अभी ये बताना मुश्किल होगा कि ये हत्या है या आत्महत्या. भुवेश भाटिया के परिवार में 11 लोग थे. सभी की मौत गई, कोई चश्मदीद नहीं बचा. मूलरूप से अलवर के रहने वाले इस परिवार के रिश्तेदारों को समझ नहीं आ रहा कि सब कैसे हो गया. भुवेश और उनके भाई ललित की ग्राउंड फ्लोर पर किराने और प्लाईवुड की दुकान है. घर की आर्थिक स्थिति भी ठीक थी और अभी तक किसी से रंजिश की बात भी सामने नहीं आई है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement