Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Delhi Assembly Election 2020: दिल्ली चुनाव से पहले BJP को बड़ा झटका, CAA विवाद की वजह से अब अकाली दल ने किया यह ऐलान, कहा - हम चुनाव में...

बीजेपी चाहती थी कि अकाली दल का उम्मीदवार उनके चुनाव चिन्ह के तहत ही दिल्ली चुनाव में लड़ें. बीजेपी और अकाली दल ने पहले दिल्ली में चार सीटों पर साथ लड़ने का फैसला किया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Delhi Assembly Election 2020: दिल्ली चुनाव से पहले BJP को बड़ा झटका, CAA विवाद की वजह से अब अकाली दल ने किया यह ऐलान, कहा - हम चुनाव में...

दिल्ली चुनाव में बीजेपी-अकाली के बीच नहीं बनी बात

खास बातें

  1. दिल्ली चुनाव में नहीं लड़ेगा अकाली दल
  2. सीएए को लेकर गितरोध के बीच किया गया ऐलान
  3. अगले महीने दिल्ली में है चुनाव
नई दिल्ली:

दिल्ली विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) को बड़ा झटका लगा है. BJP की सहयोगी अकाली दल ने नागरिकता कानून को लेकर आपसी मतभेद की वजह दिल्ली चुनाव न लड़ने का फैसला किया है. बीजेपी चाहती थी कि अकाली दल का उम्मीदवार उनके चुनाव चिन्ह के तहत ही दिल्ली चुनाव में लड़ें. बीजेपी और अकाली दल ने पहले दिल्ली में चार सीटों पर साथ लड़ने का फैसला किया था. इनमें रजौरी गार्डन, हरी नगर, शहादरा और कालकाजी जैसी सीटें शामिल थीं. दिल्ली चुनाव न लड़ने को लेकर प्रकाश सिंह बादल के करीबी एक अकाली नेता ने बताया कि हमनें बीजेपी का अनुच्छेद 370 हटाने और नागरिकता कानून को पास कराने के समय में बीजेपी का साथ दिया था लेकिन अब बीजेपी गठबंधन का धर्म नहीं निभा रही है. अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा का कहना है कि अब तक बीजेपी के साथ चार बैठकें हुई हैं जिसमें किसी भी बैठक में सीट को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है. बस CAA और NRC को लेकर ही चर्चा हुई है.

जेपी नड्डा को आज मिलेगी BJP में सबसे पावरफुल कुर्सी, उनके अब तक के करियर की बड़ी बातें


बता दें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 (Delhi Assembly Elections 2020) की तारीख का ऐलान हो चुका है. यहां एक चरण में मतदान होगा. दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए 8 फरवरी को वोटिंग होगी. 11 फरवरी को नतीजे घोषित किए जाएंगे. सत्ताधारी दल आम आदमी पार्टी (AAP) सभी सीटों पर प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर चुकी है. बीजेपी (BJP) ने अभी तक 57 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया है. सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के अनुसार, बीजेपी बुराड़ी और संगम विहार विधानसभा सीट जनता दल यूनाइटेड (JDU) को दे सकती है. बताया जा रहा है कि अकाली दल (Akali Dal) के साथ बीजेपी की फिलहाल कोई सहमति नहीं बन पाई है.

मनीष सिसोदिया का दावा- कांग्रेस-बीजेपी तो मुकाबले में भी नहीं, सभी 70 सीटें जीतेगी AAP

रविवार रात केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और अकाली दल नेता सुखबीर बादल की बैठक हुई थी लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल सका. सूत्रों की मानें तो अकाली दल चार सीटों पर चुनाव लड़ने की मांग कर रही है. यह चार सीटें हरिनगर, राजौरी गार्डन, शाहदरा और कालका जी हैं. अकाली दल दो सीटों पर अपनी पार्टी के चुनाव चिन्ह तराजू के साथ मैदान में उतरना चाहती है. दूसरी ओर बीजेपी अकाली दल को सिर्फ दो सीटें देना चाहती है. बीजेपी की ओर से कहा गया है कि दोनों सीटों पर अकाली दल उनके चुनाव चिन्ह (कमल का फूल) से चुनाव लड़े. फिलहाल गतिरोध के बीच आज (सोमवार) बीजेपी की दूसरी लिस्ट आ सकती है.

आम आदमी पार्टी का गारंटी कार्ड, दस नए झूठ की गारंटी : मनोज तिवारी

बताते चलें कि AAP संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) आज नामांकन दाखिल करने जा रहे हैं. वह नई दिल्ली सीट से विधायक हैं. वह इस सीट पर दो बार चुनाव जीत चुके हैं. बीजेपी और कांग्रेस ने नई दिल्ली सीट से प्रत्याशी के नाम का अभी तक ऐलान नहीं किया है. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने बीते रविवार 'केजरीवाल का गारंटी कार्ड' जारी किया था. अरविंद केजरीवाल ने फिर से सत्ता में आने पर दिल्ली की जनता को 10 कामों की गारंटी दी है. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की किसी भी योजना को बंद नहीं किया जाएगा. AAP ने जल्द ही घोषणापत्र जारी करने की भी बात कही है.

VIDEO: Delhi Election 2020: जानिए कैसा है AAP का चुनावी डिजिटल रूम?

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... नीना गुप्ता ने ट्रांसपेरेंट ब्लैक साड़ी में पुरानी तस्वीर की शेयर, लिखा- ''25 साल पहले भी...''

Advertisement