Delhi Assembly Election 2020: AAP के चुनाव प्रचार में उतरा अरविंद केजरीवाल का परिवार

अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और बेटी हर्षिता केजरीवाल ने नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले तिलक लेन इलाके में घर-घर जाकर लोगों से आम आदमी पार्टी को वोट देने की अपील की.

Delhi Assembly Election 2020: AAP के चुनाव प्रचार में उतरा अरविंद केजरीवाल का परिवार

Delhi Assembly Election 2020: चुनाव प्रचार में उतरा अरविंद केजरीवाल का परिवार

नई दिल्ली:

Delhi Assembly Election 2020:  दिल्ली के दंगल यानी दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020  में आपने अब तक बहुत से महारथियों को चुनाव प्रचार करते हुए देखा होगा लेकिन शनिवार को पहली बार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्नी और बेटी दोनों चुनाव प्रचार करती नजर आई. अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और बेटी हर्षिता केजरीवाल ने नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले तिलक लेन इलाके में घर घर जाकर लोगों से आम आदमी पार्टी को वोट देने की अपील की. नई दिल्ली सीट खुद अरविंद केजरीवाल की सीट है जहां से वह लगातार दो बार विधायक रहने के बाद तीसरी बार चुनाव मैदान में हैं. इस दौरान अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने पहली बार किसी न्यूज़ चैनल से बात की. एनडीटीवी इंडिया से बात करते हुए सुनीता केजरीवाल ने कहा ' मैं लोगों के घर सरकार के बीते 5 साल में किए गए कामों का रिपोर्ट कार्ड लेकर जा रही हूं और उनको बता रही हूं कि सरकार ने ये काम किए हैं और आने वाले चुनाव में वो आम आदमी पार्टी को ही वोट दें'. 

4o0asj4

आदर्श शास्त्री 'आप' छोड़कर कांग्रेस में गए, केजरीवाल पर लगाया करोड़ों रुपये लेकर टिकट देने का आरोप

एनडीटीवी इंडिया ने सुनीता केजरीवाल से सीधा सवाल पूछा की ऐसी अटकलें लगती रहती हैं कि आप भी राजनीति में आ सकती हैं तो क्या आप राजनीति में आएंगी? इस पर सुनीता केजरीवाल ने कहा 'एक काफी नहीं है फैमिली से? मुझे क्यों लाना चाहते हैं? मेरा राजनीति में आने का कोई मन नहीं है' सुनीता केजरीवाल पूर्व आईआरएस अधिकारी हैं. सुनीता ने साल 2016 में 23 साल की सर्विस के बाद स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति यानी VRS ले ली थी. सुनीता ने बताया की घर पर समय देने की जरूरत ज्यादा थी इसलिए वीआरएस ले ली. साथ ही पहली बार मीडिया से वह अब जाकर मुखातिब इसलिए भी हो पाई क्योंकि इससे पहले वह सर्विस रूल के तहत मीडिया से बात नहीं कर सकती थी लेकिन अब उन पर कोई बंदिश नहीं है इसलिए वह खुलकर अपने पति और पार्टी के लिए प्रचार कर रही हैं. प्रचार के दौरान सुनीता केजरीवाल ने दावा किया कि 99 फ़ीसदी लोग सकारात्मक रिस्पांस दे रहे हैं इसलिए उनको उम्मीद है कि दिल्ली की सभी 70 सीटों पर आम आदमी पार्टी जीत दर्ज करेगी.

दिल्ली चुनाव : संजय सिंह ने कहा- बीजेपी 'बिना दूल्हे की बारात', चुनाव से पहले ही मान ली हार

अरविंद केजरीवाल की पत्नी ही नहीं बल्कि बेटी हर्षिता केजरीवाल भी अपनी मां के साथ प्रचार में जुटी हुई हैं. हर्षिता IIT दिल्ली से पढ़ी हैं और एक बड़ी मल्टीनेशनल कंसलटिंग कंपनी में काम करती हैं लेकिन अपने पिता के लिए 5 महीने की छुट्टी लेकर चुनाव प्रचार में जुटी हुई हैं.  एनडीटीवी इंडिया से खास बातचीत में हर्षिता केजरीवाल ने बताया कि आखिर 5 महीने की छुट्टी क्यों लेनी पड़ी. हर्षिता ने कहा 'आपको हमारे ऑफिस में 100 ऐसे लोग मिल जाएंगे जो लोग छुट्टी लेकर आए हैं. वो बस एक फीलिंग है कि सब लोग एक होप देखते हैं इस पार्टी के अंदर और बहुत काम देखते हैं और चाहते हैं कि जो दिल्ली अभी 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भाग रही है आने वाले समय में 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भागे तो उसी की दिशा में हम लोग काम करना चाहते हैं एक सैटिस्फैक्शन वाली फीलिंग है जो मिलती है इसलिए सब लोग छुट्टी लेकर आए हैं और काम कर रहे हैं'. 

दिल्ली विधानसभा चुनाव : आम आदमी पार्टी की नेत्री आतिशी ने कालकाजी से भरा नामांकन

हर्षिता केजरीवाल से भी एनडीटीवी इंडिया ने यही सवाल किया कि क्या वह राजनीति में आएंगी? इस पर हर्षिता ने कहा ' नहीं मैं राजनीति में नहीं आना चाहती. चुनाव प्रचार के बाद मैं वापस अपने काम पर लौट जाऊंगी. राजनीति में मेरा रोल बस एक वॉलिंटियर की तरह है'. आम आदमी पार्टी के नई दिल्ली सीट के कैंपेन मैनेजर गोपाल मोहन बताते हैं ज्यादातर लोग अब अरविंद केजरीवाल के परिवार को पहचानते हैं. गोपाल मोहन के मुताबिक 'काफी लोग इनको पहचान लेते हैं और कुछ लोग पहचान नहीं पाते हैं तो हम लोग पहचान करा देते हैं'.  

Video: चुनाव प्रचार में उतरा अरविंद केजरीवाल का परिवार

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com