'आप' के स्थापना दिवस पर बोले अरविंद केजरीवाल, हमारे साढ़े तीन साल मोदी के 12 साल पर भारी

पिछले साढ़े तीन साल में हमने दिल्ली में जो काम करके दिखाए हैं, उसकी प्रशंसा देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में हो रही है.

'आप' के स्थापना दिवस पर बोले अरविंद केजरीवाल, हमारे साढ़े तीन साल मोदी के 12 साल पर भारी

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारे काम की प्रशंसा देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में हो रही है.

नई दिल्ली :

पिछले साढ़े तीन साल में हमने दिल्ली में जो काम करके दिखाए हैं, उसकी प्रशंसा देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में हो रही है. मोदी जी जब प्रधानमंत्री बने तब सरे देश में घूम- घूम कर गुजरात मॉडल का गुणगान कर रहे थे. मैं मोदी जी को चैलेंज करता हूं कि गुजरात के स्कूल देख लें और दिल्ली के स्कूल देख लें. गुजरात की बिजली व्यवस्था देख लें और दिल्ली की बिजली व्यवस्था देख लें. गुजरात की सड़कें देख लें और दिल्ली की सड़कें देख लें. गुजरात की सीवर व्यस्था देख लें और दिल्ली की सीवर व्यस्था देख लें और तय कर लें कि गुजरात डेवलपमेंट मॉडल बेहतर है या दिल्ली डेवलपमेंट मॉडल बेहतर है "आम आदमी पार्टी के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बातें कहीं. आम आदमी पार्टी की स्थापना के 6 साल पूरे होने पर पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पिछले साढ़े तीन साल में दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने जो काम करके दिखाए, उतना काम पिछले 70 सालों में नहीं हुआ था. दिल्ली के शिक्षा एवं चिकित्सा व्यवस्था में आम आदमी पार्टी ने जो आमूल चूल परिवर्तन किये हैं,उसकी चर्चा पूरी दुनिया में हो रही है. विदेशों से आकर लोग दिल्ली के स्कूल और मोहल्ला क्लिनिक देख रहे हैं और हमारे कामों की तारीफ कर रहे हैं. 

अरविंद केजरीवाल बोले, हरियाणा में एन्हांसमेंट घोटाले के लिए हुड्डा, चौटाला और खट्टर दोषी

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के सरकार ने दिल्ली में स्कूलों की दशा बदल कर रख दी है. दिल्ली के इतिहास में पहली बार सरकारी स्कूलों में मेगा PTM का आयोजन किया गया, जिसमे सभी बच्चों के अभिभावकों और अध्यापकों का सीधे संवाद करवाया गया,ताकि अभिभावक अपने बच्चे की सही स्थिति जान सकें और उस पर उचित सुधार कर सकें. दिल्ली सरकार के स्कूलों से शिक्षकों और प्रधानाचार्यों को विदेशों में भेजा गया, ताकि वो और बेहतर शिक्षा के तरीके सीख सकें और अपने स्कूलों के बच्चों को और भी बेहतर शिक्षा दे सकें. दिल्ली में प्राइवेट स्कूल सालों से अपनी मनमानी करते आ रहे थे. आम आदमी पार्टी की सरकार ने पिछले साढ़े तीन साल में एक बार भी प्राइवेट स्कूलों की फीस नहीं बढ़ने दी. और इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ के जिन प्राइवेट स्कूलों ने सरकार के आदेश के खिलाफ फीस बढ़ाई, हमारी सरकार ने उन सभी स्कूलों से अभिभावकों को बढ़ी फीस वापस दिलवाई.   

VIDEO: मिर्च अटैक के खिलाफ AAP का मार्च

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com