NDTV Khabar

दिल्ली सरकार का निजी स्कूलों को आदेश, 'खातों की जांच होने तक फीस न बढ़ाएं'

दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को एक आदेश जारी करके सरकारी जमीन पर चलने वाले निजी स्कूलों को आदेश दिया है कि वो फीस ना बढ़ाएं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली सरकार का निजी स्कूलों को आदेश, 'खातों की जांच होने तक फीस न बढ़ाएं'

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. दिल्ली सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को दिया आदेश
  2. 'खातों की जांच होने तक फीस न बढ़ाएं'
  3. दिल्ली में सरकारी ज़मीन पर चलने वाले 394 स्कूल हैं
नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को एक आदेश जारी करके सरकारी जमीन पर चलने वाले निजी स्कूलों को आदेश दिया है कि वो फीस ना बढ़ाएं. शिक्षा निदेशालय की तरफ़ से जारी आदेश में कहा गया है कि 'जब तक शिक्षा निदेशालय इन स्कूलों के खातों की जांच करके उनके फ़ीस बढ़ोतरी के प्रस्ताव को मंज़ूरी ना दे तब तक फीस ना बढ़ाए. आदेश ना मानने पर कार्रवाई होगी.' दिल्ली में सरकारी ज़मीन पर चलने वाले 394 स्कूल हैं जिनमें बड़े-बड़े नाम शामिल हैं. दिल्ली में स्कूल सातवें वेतन आयोग के तहत टीचर्स और स्टाफ को वेतन देने के नाम पर ना सिर्फ़ ट्यूशन फ़ीस बढ़ा रहे हैं बल्कि साथ में दो साल यानी 2016 और 2017 का भी बकाया वसूल रहे थे. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली : EWS के नाम पर अभिभावकों से खिलवाड़ कर रहीं निजी स्कूलें और सरकार

टिप्पणियां
एनडीटीवी इंडिया ने बीते हफ़्ते खबर दिखाई. दिल्ली अभिभावक संघ की अध्यक्ष अपराजिता गौतम के मुताबिक, 'शिक्षा निदेशालय के इस आदेश का किस तरह और किस स्तर पर पालन होगा, अभी ये देखना होगा. जिन स्कूलों ने फीस पहले ही बढ़ाकर वसूल ली है क्या वो वापस करेंगे? अगर नहीं तो शिक्षा निदेशालय उनके ख़िलाफ़ क्या कार्रवाई करेगा? हालांकि शिक्षा निदेशालय का आदेश केवल सरकारी जमीन पर बने निजी स्कूलों के लिए है जिनकी संख्या 394 है जबकि दिल्ली में दो हज़ार से ज़्यादा निजी स्कूल हैं और ज़्यादातर में अभिभावक मनमानी फीस वसूली की शिकायत कर रहे हैं. 

VIDEO: केजरीवाल को ठेंगा दिखाते स्कूल
बाकी स्कूलों पर सरकार किस तरह नकेल कसेगी ये देखना होगा क्योंकि जानकार ये भी बताते हैं कि कानून के तहत दिल्ली सरकार केवल सरकारी जमीन पर बने स्कूलों को ही फीस संबंधित आदेश दे सकती है, बाकी स्कूलों को नहीं. दिल्ली सरकार ने कानून में संशोधन करके 2 साल पहले केंद्र को भेजा था जो आज तक पास नहीं हुआ.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement