NDTV Khabar

दिल्ली के खौफनाक आश्रम में कैद हैं 150 महिलाएं और लड़कियां, HC ने दिए सीबीआई जांच के आदेश

दिल्ली का डेरा सच्चा सौदा आश्रम इसे कहें तो कोई अतिश्योक्ति नहीं है. दिल्ली के रोहणी में आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के नाम से बने इस आश्रम की कई खौफनाक बातें सामने आई हैं इसके बाद हाईकोर्ट ने सीबीआई को जांच करने को कहा है. इस आश्रम का बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित फिलहाल फरार है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली के खौफनाक आश्रम में कैद हैं 150 महिलाएं और लड़कियां, HC ने दिए सीबीआई जांच के आदेश

रोहिणी आश्रम मामले की दिल्‍ली हाईकोर्ट ने दिए सीबीआई जांच के आदेश (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. आश्रम का बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित फिलहाल फरार है.
  2. सीबीआई जांच के साथ ही इस मामले में एसआईटी का गठन भी करेगी: HC
  3. जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड भी आध्यात्मिक विश्विद्यालय में जाएगा
नई दिल्ली: दिल्ली का डेरा सच्चा सौदा आश्रम इसे कहें तो कोई अतिश्योक्ति नहीं है. दिल्ली के रोहणी में आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के नाम से बने इस आश्रम की कई खौफनाक बातें सामने आई हैं इसके बाद हाईकोर्ट ने सीबीआई को जांच करने को कहा है. इस आश्रम का बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित फिलहाल फरार है.

रेप के आरोपी बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के आश्रम में पुलिस रेड, महिलाओं के साथ होता था बुरा बर्ताव

हाईकोर्ट ने कहा है कि सीबीआई जांच करेगी साथ ही इस मामले में एसआईटी का गठन करेगी. विजय विहार के एसएचओ ने कहा कि सारे डॉक्युमेंट सीबीआई को मुहैया कराए जाएंगे. जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड भी आध्यात्मिक विश्विद्यालय में जाएगा और चेक करेंगा. कोर्ट ने दिल्‍ली सरकार के प्रिंसिपल सेक्रेटरी को निर्देश दिया है कि आध्यात्मिक विश्विद्यालय में मौजूद लड़कियों का इलाज डॉक्टरों से कराए. सभी 150 महिलाओं और लड़कियों का मेडिकल एग्जामिनेशन होना चाहिए. अगर अब आध्यात्मिक विश्‍वविद्यालय सहयोग नहीं करता तो हम सबको नारी निकेतन भेज देंगे और बाल कल्याण समिति जांच करेगी. 

कोर्ट ने कहा कि आध्यात्मिक विश्‍वविद्यालय अगर एक बढ़िया संस्था है तो इतने ताले क्यों है? हमारी टीम को अंदर जाने में 2 घंटे क्यों लगे? आध्यात्मिक विश्‍वविद्यालय अगर सही है तो ट्रांसपेरेंसी लाए. आध्यात्मिक विश्‍वविद्यालय सही है या गलत इस पर अभी हम कमेंट नही कर रहे है. आप 150 महिलाओं को बंद किये हुए है. दिल्ली पुलिस ने कहा कि सुबह आध्यात्मिक विश्विद्यालय के तरफ से पीसीआर कॉल किया गया कि भीड़ इकट्ठा हो गयी है लेकिन जब वहां पहुंचे तब कुछ नहीं था. कोई सहयोग तब भी आध्यात्मिक विश्‍वविद्यालय की तरफ से नहीं किया गया.

एक और हाई प्रोफाइल बाबा विवादों में, पूर्व साध्वी ने दर्ज कराया रेप केस

क़रीब 5 घंटे तक आश्रम में चला सर्च ऑपरेशन. डीवीआर, सीसीटीवी कैमरे की फुटेज बरामद हुई हैं. स्वाति मालिवाल ने बताया कि हमने कोर्ट के आदेश का कम्प्लाइयन्स किया है. पूरे बिल्डिंग को पिंजरा बना रखा है.. कल हाई कोर्ट में हम रिपोर्ट फ़ाइल करेंगे. एक भी महिला अंदर पहुंच जाती तो बाहर वो बचकर नहीं निकल सकती. स्वाति ने बोला DCP और मुझे बंधक आश्रम में बनाया गया था. हालात काफ़ी ख़राब थे.

विजय विहार के अध्यात्मिक विश्वविद्यालय में रात को पहुंचे रोहिणी डीसीपी रजनीश गुप्ता को भी अंदर बंद कर दिया गया. उनके साथ में कई पुलिस अधिकारी भी मौजूद थे. साथ ही डीसीडब्‍ल्‍यू की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल भी थी. इसी दौरान स्वाति मालीवाल के आश्रम के अंदर मौजूद महिलाओं ने स्वाति के बाल खीचे और रजनीश गुप्ता को आश्रम में बंद कर दिया. पुलिस ने गेट को गैस कटर से काट कर डीसीपी को बाहर निकाला.

स्वाति मालीवाल ने कहा कि हमे 45 मिनट तक बंधक बना लिया गया था. हमे कुछ समझ में नहीं आ रहा था. हर जगह इंजेक्शन और दवाइयां थी. 5 लडकियों वहां मैंने देखा बीमार थी. मैंने कहा डॉ का प्रिस्क्रिप्शन दो. वहां था ही नहीं और मुझे देखने से लगा कि वहां काफी लड़कियां नाबालिग थी. माउंट आबू से एक 13 साल की लड़की को रेस्क्यू कराया गया.

हनीप्रीत के पति ने किया था खुलासा, अपनी गुप्त गुफा में बाबा जोड़ों से खिलवाता था Bigg Boss

टिप्पणियां
कोर्ट ने दिल्ली सरकार को कहा कि अध्यातिमक विश्विद्यालय के खिलाफ जितने भी एफआईआर दर्ज किए हैं और दिल्ली से बाहर जो भी है. आप सब अपने कब्जे में ले लो और सीबीआई को मैं कह सकती हूं कि मामला लेने के लिए. स्वाति मालीवाल ने कहा कि मुझे लगता है कि मामला क्राइम ब्रांच या फिर सीबीआई को दे दिया जाए. क्योंकि पड़ोसियों के मुताबिक, रात भर वहां गाड़िया आती है. चंडीगढ़ नंबर की भी आती है्. और वहां पर लोकल पुलिस पता नहीं अब तक क्या कर रही थी.

VIDEO: दिल्ली के एक आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में हुआ जमकर हंगामा

स्वाति मालीवाल ने कहा वहां एक रुचि गुप्ता थी जो सबकी नेता थी. उसकी बाते वहां सुनी जाती है. हर जगह यानी कहे थोड़ा गए अंदर एक ताला फिर दूसरा ताला फिर तीसरा ताला फिर एक ताला, हर जगह ताला है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement