NDTV Khabar

दिल्ली मेट्रो के निकट अवैध धार्मिक ढांचों को लेकर अदालत ने मांगा डीडीए से जवाब

अदालत ने अधिकारियों से सार्वजनिक जमीन और मेट्रो स्टेशन के निकट अतिक्रमण नहीं होने को भी सुनिश्चित करने को कहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली मेट्रो के निकट अवैध धार्मिक ढांचों को लेकर अदालत ने मांगा डीडीए से जवाब

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

दिल्ली उच्च न्यायालय ने मेट्रो स्टेशनों के निकट स्थित अवैध धार्मिक ढाचों को हटाने को लेकर दायर की गई याचिका के संबंध में डीडीए और नगर निकायों से जवाब मांगा है. कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति सी हरि शंकर ने जमीन का मालिकाना हक रखने वाली एजेंसी और नगर निकायों को नोटिस जारी करके स्थिति रिपोर्ट तलब की है.

इस समिति की सिफारिशें मानी गईं तो जनवरी-2019 में फिर बढ़ सकता है दिल्ली मेट्रो का किराया... 

अदालत ने अधिकारियों से सार्वजनिक जमीन और मेट्रो स्टेशन के निकट अतिक्रमण नहीं होने को भी सुनिश्चित करने को कहा है. अदालत ने एजेंसियों को निर्देश दिया है कि वह अगली सुनवाई (10 अप्रैल) से पहले इस मामले में स्थिति रिपोर्ट दायर करें.


टिप्पणियां

गैर सरकारी संगठन फाइट फॉर ह्यूमन राइट्स ने इस संबंध में याचिक डाली थी. याचिका में निर्माण विहार और सरिता विहार मेट्रो स्टेशन के नीचे स्थित अवैध धार्मिक ढांचे को तत्काल हटाने की मांग की गई थी. याचिका में आरोप लगाया गया था कि डिफेंस कालोनी में बस स्टॉप के निकट अवैध तरीके से मंदिर बनाया गया है.

VIDEO : किराया बढ़ने के बाद कम हुए दिल्ली मेट्रो के यात्री

इसमें कहा गया है कि अवैध ढांचों की वजह से पैदल यात्रियों और वाहनों को आने-जाने में दिक्कत होती है.



NDTV.in पर हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) विधानसभा के चुनाव परिणाम (Assembly Elections Results). इलेक्‍शन रिजल्‍ट्स (Elections Results) से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरेंं (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement