NDTV Khabar

पकड़ी गई दिल्ली की 'लेडी डॉन' बशीरन उर्फ मम्मी, 7 महीने से थी फरार

दिल्ली के संगम विहार इलाके में खौफ का पर्याय बनी 'लेडी डॉन' बशरीन उर्फ मम्मी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पकड़ी गई दिल्ली की 'लेडी डॉन' बशीरन उर्फ मम्मी, 7 महीने से थी फरार

बशीरन 7 महीने से फरार चल रही थी.

नई दिल्ली : दिल्ली के संगम विहार इलाके में खौफ का पर्याय बनी 'लेडी डॉन' बशीरन उर्फ मम्मी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. वह 7 महीने से फरार चल रही थी. आपको बता दें कि महिला के 8 बेटे हैं और सभी अपराध में शामिल रहे हैं. पूरे परिवार पर 113 केस दर्ज हैं. कोर्ट के आदेश पर बशीरन का घर पहले ही सील हो चुका है. पुलिस के मुताबिक बशीरन ने अपने बच्चों को तो अपराध में धकेला ही, इलाके के सैकड़ों नाबालिग बच्चों को भी पहले नशे की लत लगाई और फिर उन्हें अपनी गैंग में शामिल कर लिया था. पुलिस के मुताबिक इलाके के ऐसे बच्चे जो कि एक सेंसटिव ऐज में होते हैं, जहां वे अपने अच्छे-बुरे का निर्णय नहीं ले पाते, उनको पैसे का लालच देकर या एक अच्छी ज़िंदगी का लालच देकर या फिर मौजमस्ती ऐश का लालच देकर बशरीन जुर्म की तरफ धकेल रही थी. 

NDTV EXCLUSIVE : दिल्ली के संगम विहार की 'लेडी डॉन' के साम्राज्य पर पुलिस का शिकंजा 

एक स्थानीय निवासी ने बताया कि इसका (बशीरन) आतंक का साया ऐसा है कि रात में आठ बजे के बाद कोई महिला रोड पर चलने से डरती है. यह 8-10-12 साल के बच्चों को अपना शिकार बनाती है. पहले नशे की आदत डालती है, चरस, गांजा खिलाना-पिलाना.. जब 6-7 महीने में आदत पड़ जाती है तो फिर उनको यह बदमाश बनाती है. उन्हें चाकू, छुरा, रिवॉल्वर देती है. इलाके में दिल्ली की सरकारी पानी की पाइप लाइन पर बशीरन का कब्ज़ा था. वह यहां अपने तरीके से पानी बांटती है और लोगों से घंटे के हिसाब से पैसे वसूलती थी. एक स्थानीय निवासी ने बताया कि इन्होंने कई बोरों पर कब्ज़े कर रखे हैं. 700 से 1000 रुपये वसूलते हैं. बहुत ही आतंक है इन लोगों का.

उमर खालिद पर हमला : पुलिस के हाथ अभी भी खाली, आरोपियों ने नहीं किया आत्मसमर्पण  

आपको बता दें कि बशरीन के आठ बेटे हैं. अपराध में यह परिवार काफी आगे है. बशीरन यानि गैंग की सरगना पर 9 मामले दर्ज हैं. उसके बेटों में शमीम पर 42, शकील पर 15, वकील पर 13, राहुल पर 3, फैज़ल पर 9, सनी पर 9, सलमान पर 2 और एक नाबालिग बेटे पर 11 संगीन मामले दर्ज हैं. इन मामलों में 7 केस हत्या के और 3 हत्या की कोशिश के हैं. बशीरन पर शिकंजा कसना तब शुरू हुआ जब इसी साल जनवरी में उसने एक लड़के को अगवा करवाकर घर के पास जंगल में उसकी हत्या करवानी चाही, लेकिन समय रहते पुलिस पहुंच गई और वह लड़का बच गया. तब पता चला कि बशीरन ने जंगल में 17 सितंबर 2017 को मिराज नाम के एक लड़के की हत्या करवाकर उसे वहीं दफन करवा दिया था. तभी से बशीरन फरार है और उसे कोर्ट ने भगोड़ा घोषित किया है. 

साइबर क्राइम पर कंट्रोल करने के लिए बिहार पुलिस बनाएगी ‘साइबर सेनानी’ समूह



टिप्पणियां



 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement