दिल्ली में 26 जनवरी और चुनाव के ठीक पहले 60 पिस्टल के साथ 2 गिरफ्तार

स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव यादव के मुताबिक एक सूचना के आधार पर पहले दिल्ली के हैदरपुर इलाके से रोहतक के रहने वाले संजीव को गिरफ्तार किया गया. उसके पास 10 पिस्टल मिलीं जो वो किसी को देने आया था.

दिल्ली में 26 जनवरी और चुनाव के ठीक पहले 60 पिस्टल के साथ 2 गिरफ्तार

नई दिल्‍ली:

26 जनवरी और दिल्ली विधानसभा चुनाव के ठीक पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 60 पिस्टल के साथ 2 लोगों को गिरफ्तार किया है और मेरठ के अवैध हथियारों के कारखाने से बड़ी मात्रा में पिस्टल बनाने का सामान भी बरामद हुआ है. स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव यादव के मुताबिक एक सूचना के आधार पर पहले दिल्ली के हैदरपुर इलाके से रोहतक के रहने वाले संजीव को गिरफ्तार किया गया. उसके पास 10 पिस्टल मिलीं जो वो किसी को देने आया था. संजीव ने पूछताछ में बताया कि वो अवैध हथियारों का बड़ा सप्लायर है और इस धंधे में 5 साल से है.

संजीव के मुताबिक वो हथियार और कारतूस मेरठ के फकरुद्दीन नाम के शख्स से लाता है. 19 जनवरी को दिल्ली पुलिस ने मेरठ के हुमायूं नगर में फकरुद्दीन नाम के शख्स के अवैध हथियारों के कारखाने में छापेमारी की और वहां से 50 और पिस्टल बरामद हुईं और बड़ी मात्रा में पिस्टल और दूसरे हथियार बनाने का सामान बरामद हुआ. पुलिस को फकरुद्दीन तो नहीं मिला लेकिन उसका बेटा नूर हसन जो इस धंधे में शामिल था, वो पकड़ा गया.

नूर हसन ने बताया कि इसके परिवार में सभी तीन पीढ़ियों से यही धंधा कर रहे हैं. उसके बाबा, पिता और सभी भाई हथियार बनाने की इसी गोरखधंधे में हैं. ये काम करते करते उन्हें 30 साल हो गए. ये लोग थोक में हथियार दिल्ली, हरियाणा, मध्यप्रदेश, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में बेचते हैं. पुलिस के मुताबिक आरोपी संजीव पर हरियाणा में हत्या समेत कई आपराधिक केस दर्ज हैं तो वहीं नूर हसन और उसके पिता फकरुद्दीन पर भी कई केस दर्ज हैं और वो पहले गिरफ्तार भी हो चुके हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com