पुलिसकर्मियों को कोरोना से बचाने के लिए दिल्ली पुलिस ले रही तकनीक का सहारा

दिल्ली पुलिस ने राजधानी के थानों में कई तरह के ऐसे तकनीकी उपकरण लगा दिए हैं, जिनसे पुलिसकर्मी थानों में आए लोगों की बात उनसे मिले बिना ही सुन सके. 

पुलिसकर्मियों को कोरोना से बचाने के लिए दिल्ली पुलिस ले रही तकनीक का सहारा

पुलिस कर्मियों को कोरोना से बचाने के लिए दिल्ली पुलिस ने थानों में लगाए उपकरण

खास बातें

  • दिल्ली पुलिस में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले
  • रविवार को कोरोना के कारण ही एक और पुलिसकर्मी की हुई मौत
  • पुलिसकर्मियों को बचाने के लिए लिया जा रहा है तकनीक का सहारा
नई दिल्ली:

देश में कोरोनावायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है. राजधानी दिल्ली में लगातार चौथे दिन एक हजार से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आए हैं. इनमें दिल्ली पुलिस के कर्मी भी शामिल हैं. रविवार को कोरोना वायरस के कारण ही एक और पुलिस कर्मी की मौत हो गई है. अब दिल्ली पुलिस अपने कर्मियों का कोरोनावायरस से बचाने के लिए तकनीक का सहारा ले रही है. दिल्ली पुलिस ने राजधानी के थानों में कई तरह के ऐसे तकनीकी उपकरण लगा दिए हैं, जिनसे पुलिसकर्मी थानों में आए लोगों की बात उनसे मिले बिना ही सुन सके. 

थानों में लगाया पहला उपकरण है सेंसर वाला हैंड सेनिटाइजर जिसे बिना टच किए लोग अपने हाथ को सेनिटाइज कर सकते हैं. दूसरा उपकरण थर्मल कैमरा जिसमे दो फिट की दूरी से विजिटर का तापमान मापता है और तापमान असमान्य होने पर एक स्पीकर के जरिए आवाज देकर अलर्ट भेजता है. इसके जरिए ये भी पता चल जाएगा की किसने मास्क पहना है या नहीं.

तीसरा उपकरण वीडियो इंटरकॉम है, जिसके जरिए पुलिसकर्मी विजिटर से दूर उससे वीडियो चैट कर सकते हैं. इसके लिए विजिटर को थाने में घुसने की जरूरत नहीं पड़ेगी. थाने में लगा चौथा उपकरण यूवी डिसइंफेक्शन बॉक्स है. ये उपकरण थानों के एंट्री गेट पर लगाया गया है. इसके जरिए किसी भी चीज़ को जैसे फाइल, पेपर और वायरलैस सेट को डिसइन्फेक्ट कर सकते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com