NDTV Khabar

हथिनीकुंड बैराज से लगातार पानी छोड़ने की वजह से यमुना उफान पर, दिल्ली पर मंडराया बाढ़ का खतरा

हथिनीकुंड बैराज से लगातार पानी छोड़े जाने की वजह से दिल्ली में यमुना नदी उफान पर है. पिछले दो दिनों से यमुना ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हथिनीकुंड बैराज से लगातार पानी छोड़ने की वजह से यमुना उफान पर, दिल्ली पर मंडराया बाढ़ का खतरा

यमुना नदी में लगातार पानी बढ़ने की वजह से दिल्ली पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है.

खास बातें

  1. हथिनीकुंड बैराज से लगातार पानी छोड़े जाने से यमुना का जलस्तर बढ़ा
  2. खतरे के निशान से काफी उपर बह रही है यमुना नदी
  3. दिल्ली के कई निचले आ सकते हैं बाढ़ की चपेट में
नई दिल्ली :

हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से लगातार पानी छोड़े जाने की वजह से दिल्ली में यमुना नदी उफान पर है. पिछले दो दिनों से यमुना ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही है. फ़िलहाल यमुना में जलस्तर 206.03 मीटर है. यमुना में लगातार पानी बढ़ने की वजह से दिल्ली पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. खासकर वजीराबाद, सोनिया विहार, शास्त्री पार्क, गांधी नगर, ओखला समेत अन्य निचले इलाकों पर बाढ़ का साया मंडरा रहा है. अगर यही स्थिति बनी रही तो ये इलाके एक दो दिनों में बाढ़ की चपेट में आ सकते हैं. बाढ़ की आशंका को देखते हुए निचले इलाके में रह रहे लोगों को निकालने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आपात बैठक भी की है.

यह भी पढ़ें : दिल्ली : यमुना का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर, मनीष सिसोदिया ने तटीय इलाके का किया दौरा 
 

p7p45ka
यमुना में लगातार पानी बढ़ने की वजह से दिल्ली के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. 

यह भी पढ़ें : दिल्ली में यमुना खतरे के निशान से ऊपर, निचले इलाकों से लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाया जा रहा

दिल्ली में बाढ़ की आशंका को देखते हुए उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया खुद राहत और बचाव कार्य की निगरानी कर रहे हैं. एक दिन पहले ही वह अक्षरधाम और पांडव नगर जैसे निचले इलाकों में लोगों को निकालने के लिए चल रहे काम का जायजा लेने पहुंचे थे. मनीष सिसोदिया ने नदी के आसपास रहने वाले लोगों से मुलाकात भी की और उन्हें यमुना के बढ़ते जल स्तर के बारे में आगाह करते हुए सुरक्षित स्थान पर जाने का आग्रह किया है.
 

evch79uo
यमुना में लगातार पानी बढ़ता रहा तो एक-दो दिनों में दिल्ली बाढ़ की चपेट में आ सकती है.
 
दिल्ली के अलावा हरियाणा में भी यमुना नदी उफान पर है और दो दिनों से ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही है. पानीपत में यमुना के किनारे बसे कुछ गांवों के चारों ओर पानी भर गया है, जिससे गांव का दूसरे इलाक़ों से संपर्क कट गया है. स्थानीय प्रशासन गांव के लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित जगहों पर ले जा रही है. 

यह भी पढ़ें : दिल्ली में पुराना लोहा पुल फिर खोला गया, रेल यातायात बहाल
 

11k7ccm
दिल्ली में यमुना का जलस्तर 206.03 मीटर हो गया है, जो खतरे के निशान से काफी ज्यादा है. 
 
यूपी में पिछले कुछ दिनों में हुई भारी बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त है. यूपी के कानपुर में सड़कों पर बारिश का पानी भरा है. गाड़ियां जहां-तहां फंसी हुई हैं. साथ सरकारी अस्पताल, थाने में भी पानी घुस गया है. बारिश की वजह से यूपी के मुरादाबाद में बाढ़ जैसे हालात हैं. लोगों के घरों में पानी घुस गया है. न तो बच्चे स्कूल जा पा रहे हैं, न ही ज़रूरत का सामान लेने लोग बाहर निकल रहे हैं. चारों ओर पानी ही पानी दिख रहा है.
टिप्पणियां

यह भी पढ़ें : उत्तर भारत में बाढ़ और बारिश का कहर : अस्पताल से लेकर घरों तक घुसा पानी, नदियां भी उफान पर  

VIDEO: यमुना का जलस्तर काफी बढ़ा, जलस्तर खतरे के निशान के करीब


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement