NDTV Khabar

पानी के प्रबंधन को लेकर दिल्ली का हाल बुरा, इस मामले में गुजरात सबसे बेहतर

पानी के प्रबंधन को लेकर दिल्ली का हाल बुरा है. वहीं इस मामले में गुजरात का सबसे बेहतर है. नीति आयोग की तरफ से जारी कम्पोजिट वाटर मैनेजमेंट इंडेक्स के मुताबिक तीन साल के दौरान 80% राज्यों ने पिछली बार से इस बार बेहतर किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पानी के प्रबंधन को लेकर दिल्ली का हाल बुरा, इस मामले में गुजरात सबसे बेहतर

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

पानी के प्रबंधन को लेकर दिल्ली का हाल बुरा है. वहीं इस मामले में गुजरात का सबसे बेहतर है. नीति आयोग की तरफ से जारी कम्पोजिट वाटर मैनेजमेंट इंडेक्स के मुताबिक तीन साल के दौरान 80% राज्यों ने पिछली बार से इस बार बेहतर किया है. वाटर बॉडीज को लेकर बेहतर परफॉर्म करने वाले राज्य मध्यप्रदेश, तेलंगाना और तमिलनाडु रहे. ग्राउंड वाटर को लेकर आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश और हिमाचल प्रदेश ने जहां बेहतर काम किया है. वहीं उत्तरप्रदेश-उत्तराखंड और झारखंड की हालात चिंताजनक है.

दिल्ली में 2022 तक जल संकट खत्म होने का दावा, केजरीवाल सरकार की महत्वाकांक्षी योजना लॉन्च

शहरी जनता को स्वच्छ पानी मुहैया करवाने के मामले में मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, गोवा और उत्तराखण्ड अव्वल रहे. वहीं बिहार और असम में हालात खराब है. गांव में पीने योग्य पानी पहुंचाने के मामले में हिमाचल प्रदेश, पुडुच्चेरी, गुजरात ने अच्छा काम किया. वहीं दिल्ली की स्थिति इस मामले सबसे खराब है. 


पानी के संकट से घिरे इलाकों में वैज्ञानिक समस्या का स्थाई समाधान ढूंढेंगे

टिप्पणियां

नीति आयोग के मुताबिक पश्चिम बंगाल, मिज़ोरम, मणिपुर और जम्मू कश्मीर ने जल को लेकर अपनी स्थिति नीति आयोग से साफ नहीं किये. केंद्र सरकार का लक्ष्य 2024 तक घर-घर तक नल से पानी मुहैया कराने की है. 

Video: जल्द सूख जाएगी दिल्ली की धरती, कई इलाकों में मचा है हाहाकार



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... साड़ी के ऊपर टी-शर्ट पहनकर Rowdy Baby गाने पर जमकर नाचीं दादी, लोग बोले- "सुपर अम्‍मा"

Advertisement