ऊंची जीएसटी दर के विरोध में दिल्ली में फर्नीचर दुकानें तीन दिन बंद रहेंगी

विरोध प्रदर्शन का आयोजन कर रही दिल्ली फर्नीचर फेडरेशन ने कहा कि यह सरकार की ओर से की गई सरासर नाइंसाफी है.

ऊंची जीएसटी दर के विरोध में दिल्ली में फर्नीचर दुकानें तीन दिन बंद रहेंगी

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) प्रणाली के तहत फर्नीचर पर 28 प्रतिशत की दर से टैक्स लगाए जाने के विरोध में दिल्ली में फर्नीचर निर्माताओं ने सोमवार से अपनी दुकानें तीन दिन के लिए बंद रखने का ऐलान किया.

विरोध प्रदर्शन का आयोजन कर रही दिल्ली फर्नीचर फेडरेशन ने कहा कि यह सरकार की ओर से की गई सरासर नाइंसाफी है. सरकार ने अस्पताल, कार्यालय, स्कूल और घरों में आम लोगों द्वारा इस्तेमाल में लाए जाने वाले फर्नीचर पर 28 प्रतिशत टैक्स लगाया है, जबकि हीरा जैसी विलासिता की वस्तुओं पर केवल तीन प्रतिशत टैक्स लगाया गया है.

फेडरेशेन के अध्यक्ष रतिंदर पाल सिंह भाटिया ने पत्रकारों से कहा, 'हमने सरकार से फर्नीचर पर प्रस्तावित ऊंची दर में संशोधन करने का आग्रह किया, लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मौजूदा समय में फर्नीचर पर 12 प्रतिशत कर लगता है. उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने फर्नीचर आयात पर आयात शुल्क घटाकर इसे सस्ता करके घरेलू फर्नीचर निर्माताओं की परेशानी और बढ़ा दी है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)