कोरोना मरीज की मदद न मिलने से हुई मौत तो केजरीवाल पर बरसे कुमार विश्वास, कही ये बात

कुमार विश्वास ने केजरीवाल सरकार की ओर से अखबारों और टीवी पर दिए गए विज्ञापनों को निशाना बनाते हुए अपने ट्वीट में लिखा है कि दिल्लीवालों को अपना ख्याल खुद रखना होगा.

कोरोना मरीज की मदद न मिलने से हुई मौत तो केजरीवाल पर बरसे कुमार विश्वास, कही ये बात

कुमार विश्वास ने सीएम केजरीवाल पर फिर एक बार साधा निशाना. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कोरोना से संक्रमित महिला की मरीज
  • किसी भी अस्पताल से नहीं मिली कोई भी मदद
  • सीएम केजरीवाल पर बरसे कुमार विश्वास
नई दिल्ली:

दिल्ली में कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. कई मंत्रालयों सहित दिल्ली एम्स के स्टाफ में भी कोरोना का संक्रमण पहुंच गया है. ऐसे में आम आदमी के लिए यह बहुत ही मुश्किलों भरा वक्त है. इसी बीच डॉक्टर कुमार विश्वास ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर तीखा हमला बोला है. कुमार विश्वास ने एक ट्वीट कर सीधे-सीधे बोल दिया कि अब दिल्लीवालों को अपनी मदद खुद करनी होगी और अपना ख्याल खुद रहना होगा. 

उनका ट्वीट एक ट्विटर यूजर के अपने परिवार में कुछ लोगों को संक्रमित होने और कोई मदद न मिलने की कहानी सामने आने के बाद आया है. विश्वास ने केजरीवाल सरकार अखबारों और टीवी पर दिए गए विज्ञापनों को निशाना बनाते हुए अपने ट्वीट में लिखा, 'यह तार (Thread) धूरतेश्वर द्वारा चैनलों-अख़बारों को दिए करोड़ों रुपए वाले थोबड़ा-दिखाऊ विज्ञापनों के पीछे छिपी उसकी निकम्मी असलियत को 'तार-तार' करता है ! दिल्ली के नागरिकों से प्रार्थना है कि स्वयं ही अपना खूब ख़्याल रखें.'

बता दें कि राधिका अग्रवाल नाम की महिला ने ट्विटर पर एक थ्रेड में बताया कि उनकी मामी कोविड से संक्रमित थीं, उन्होंने और उनके परिवार ने अपनी टेस्टिंग और जरूरी मदद जुटानी चाही लेकिन किसी भी अस्पताल से उन्हें कोई मदद नहीं मिली, जिसके बाद उनकी मामी चल बसीं.

राधिका ने बताया है, 'दिल्ली में रहने वाली मेरी मामी और उनके परिवार में कुछ लोगों को 2 जून के तीन दिन पहले से ही कोविड के लक्षण दिख रहे थे. उनका पूरा परिवार अपने फैमिली डॉक्टर की सलाह पर टेस्टिंग कराने के लिए खेत्रपाल अस्पताल गया. बहुत बहस के बाद अस्पताल बस मेरी मामी की टेस्टिंग के लिए तैयार हुआ. जबकि परिवार में सभी को लक्षण दिख रहे थे लेकिन किसी की भी न ही टेस्टिंग की गई न ही उन्हें एडमिट किया गया. दुर्भाग्य से मेरी मामी की उसी दिन घर पर ही रात 11 बजे मौत हो गई. 43 घंटे बाद गुरुवार की सुबह 10 बजे उनके कोविड टेस्टिंग का रिजल्ट पॉजिटिव आया. अब उनके 15 सदस्यों के परिवार में, जिसमें 2 लोग 80 से ऊपर की उम्र और दो लोग 20 साल से कम उम्र के हैं, हर हेल्पलाइन पर कॉल करे रहे हैं, पुलिस से मदद मांग रहे हैं. वो कई हॉस्पिटल भी जा चुके हैं ताकि उन्हें मेडिकल सुपरविज़न मिल पाए. लेकिन अब तक कोई मदद नहीं मिली है. उनके इलाके को भी अभी तक कंटेन नहीं किया गया है. मैं ट्विटर पर मदद मांग रही हूं क्योंकि सभी अथॉरिटीज़ ने हॉस्पिटल भरे हुए हैं कहकर हाथ खड़े कर दिए हैं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

राधिका ने बाद में अपडेट भी दिया कि शाहदरा के विधायक रामनिवास गोयल ने उनसे संपर्क किया है और उत्तम नगर के विधायक नरेश बलियान ने भी उनसे बात की है और परिवार के सभी लोगों की शुक्रवार तक जांच कराने का भरोसा दिलाया है.

वीडियो: रवीश कुमार का प्राइम टाइम- एम्स में नर्सिंग स्टाफ का विरोध प्रदर्शन