NDTV Khabar

अरविंद केजरीवाल ने बताया, दिल्ली में क्यों नहीं महसूस हो रही है आर्थिक मंदी की 'चुभन'

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह व्यापारी समुदाय से होने के नाते उनकी पीड़ा समझते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अरविंद केजरीवाल ने बताया, दिल्ली में क्यों नहीं महसूस हो रही है आर्थिक मंदी की 'चुभन'

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह व्यापारी समुदाय से होने के नाते उनकी पीड़ा समझते हैं

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह व्यापारी समुदाय से होने के नाते उनकी पीड़ा समझते हैं. उन्होंने दावा किया कि आम सरकार की योजनाओं के चलते दिल्ली को अर्थिक मंदी की 'चुभन' महसूस नहीं हुई है. आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख ने रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि वह चाहते हैं कि देश की आर्थिक स्थिति बेहतर हो. केजरीवाल ने व्यापार और उद्योग मंडल द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, 'मैं खुद व्यापारी परिवार से हूं और व्यापारियों की व्यथा, दर्द और समस्याओं को अच्छी तरह समझता हूं. इस आर्थिक मंदी के समय में दिल्ली सरकार की योजनाओं के चलते दिल्ली के लोग उतनी अधिक चुभन महसूस नहीं कर रहे हैं.' 

पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने मोदी सरकार पर बोला हमला,कहा- मंत्रियों के 'अटपटे' बयानों से अर्थव्यवस्था का कल्याण नहीं होगा


टिप्पणियां

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यापार 'मंदा पड़ रहा' है और लोगों के वेतन में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई, जबकि उनके खर्च बढ़ रहे हैं, ऐसे में उनकी सरकार ने दिल्ली के लोगों को बहुत अधिक मदद पहुंचाई, ताकि उन्हें आर्थिक मंदी की चुभन महसूस न हो. उन्होंने कहा, 'हमने 200 यूनिट तक का बिजली बिल माफ कर दिया. हमने मुफ्त पानी मुहैया कराया और पानी के पुराने बिल माफ कर दिए. अब महिलाओं के लिए बस का सफर भी मुफ्त होगा.' केजरीवाल ने दावा किया कि अर्थव्यवस्था 'भीषण मंदी' से गुजर रही है और केंद्र सरकार से हालात को बदलने के लिए जरूरी कदम उठाने की अपील की. 

Video: निर्यातक हैं सबसे ज्यादा परेशान, GST और रिफंड ने बढ़ाया संकट



NDTV.in पर हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) विधानसभा के चुनाव परिणाम (Assembly Elections Results). इलेक्‍शन रिजल्‍ट्स (Elections Results) से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरेंं (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement