NDTV Khabar

DUSU Election: अध्यक्ष सहित तीन पदों पर ABVP काबिज, NSUI को एक सीट पर मिली जीत

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (DUSU) के चुनाव में RSS से जुड़े ABVP ने शुक्रवार को अध्यक्ष सहित तीन पदों पर जीत हासिल की जबकि कांग्रेस समर्थित NSUI को सेक्रेटरी पद पर जीत मिली है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
DUSU Election: अध्यक्ष सहित तीन पदों पर ABVP काबिज, NSUI को एक सीट पर मिली जीत

जीत के बाद जश्न मनाते विजेता उम्मीदवार

खास बातें

  1. दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ चुनावों के नतीजों का ऐलान
  2. अध्यक्ष सहित तीन पदों पर ABVP को मिली जीत
  3. NSUI के हिस्से में आई एक सीट
नई दिल्ली:

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (DUSU) के चुनाव में RSS से जुड़े ABVP ने शुक्रवार को अध्यक्ष सहित तीन पदों पर जीत हासिल की जबकि कांग्रेस समर्थित NSUI को सेक्रेटरी पद पर जीत मिली है. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के अश्वित दहिया ने अध्यक्ष पद के लिए नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) के चेतन त्यागी को 19 हजार वोटों से हरा दिया. ABVP के प्रदीप तंवर और शिवांगी खरवाल उपाध्यक्ष और संयुक्त सचिव के पद पर क्रमश: 8574 और 2914 वोटों से विजयी रहे. NSUI ने सचिव पद पर जीत हासिल की और इसके उम्मीदवार आशीष लांबा ने ABVP के योगी राठी को 2053 वोटों से हराया. डूसू चुनावों में गुरुवार को 39.90 फीसदी वोट पड़े जो पिछले साल के मुकाबले करीब चार फीसदी कम थे. पिछले साल के चुनाव में 44.46 फीसदी वोट पड़े थे.    DUSU में चार पदों के लिए चुनाव EVM में खराबी के आरोपों के बीच संपन्न हुए. चार महिलाओं सहित 16 उम्मीदवार मैदान में थे और इसके लिए 52 मतदान केंद्र बनाए गए थे. 

दिल्ली में अब तक का सबसे बड़ा चालान, वाहन मालिक को लगी 2 लाख से अधिक की चपत


करीब 1.3 लाख छात्र चुनाव में मतदान करने के लिए योग्य थे. 144 ईवीएम छात्र संघ चुनाव के लिए और 137 ईवीएम कॉलेज संघ चुनाव के लिए इस्तेमाल की गईं. मॉर्निंग क्लासेज के लिए मतदान सुबह साढ़े नौ बजे शुरू हुआ और दोपहर एक बजे खत्म हुआ. इवनिंग क्लासेज में पढ़ने वाले छात्रों के लिए दोपहर तीन बजे मतदान शुरू हुआ और यह शाम साढ़े सात बजे खत्म हुआ. पिछले साल तीन पदों पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) और एक पर नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) ने जीत दर्ज की थी.

DUSU Election Results Live Updates: डीयू में ABVP का परचम, NSUI को मिला सिर्फ एक पद

टिप्पणियां

कुछ नेताओं ने कहा कि गर्मी और उमस के साथ कॉलेजों में छुट्टी की वजह से मतदान प्रतिशत कम रहा. चुनाव की वजह से गुरुवार को छुट्टी घोषित की गई थी, इसलिए छात्र मतदान करने नहीं आए. हालांकि, विधि विभाग, मिरांडा हाउस और रामजस कॉलेज में मतदान करने के लिए लंबी कतारें दिखीं. नॉर्थ कैम्पस में किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए 400 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था. आरएसएस संबद्ध एबीवीपी ने 35 कॉलेज संघों में जीत का दावा किया है जबकि कांग्रेस से संबद्ध एनएसयूआई ने 22 कॉलेज संघों में जीत मिलने की बात कही.

Video: दिल्ली सरकार के बजट ने होटल व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ाई



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement