NDTV Khabar

DUSU चुनाव: अध्‍यक्ष, उपाध्‍यक्ष, सचिव पद पर ABVP की जीत, NSUI जीती संयुक्‍त सचिव सीट

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
DUSU चुनाव: अध्‍यक्ष, उपाध्‍यक्ष, सचिव पद पर ABVP की जीत, NSUI जीती संयुक्‍त सचिव सीट

खास बातें

  1. एनएसयूआई ने संयुक्त सचिव की सीट जीतकर दो साल बाद वापसी की.
  2. एबीवीपी के अमित तंवर-अध्‍यक्ष, प्रियंका-उपाध्‍यक्ष और अंकित सचिव चुने गए
  3. बीते चार सालों में इस बार यहां सबसे कम वोटिंग हुई थी.
नई दिल्‍ली:

दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ (डूसू) चुनाव के नतीजों में भाजपा की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने बाजी मारी है. अध्‍यक्ष, उपाध्‍यक्ष, सचिव जैसे अहम पदों पर ABVP ने जीत दर्ज की है तो वहीं, कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई को महज संयुक्‍त सचिव पर पर ही संतोष करना पड़ा. हालांकि एनएसयूआई ने यह सीट जीतकर दो साल बाद वापसी की है.

डूसू के अध्‍यक्ष पद के लिए विश्‍व‍विद्यालय के छात्रों ने एबीवीपी के अमित तंवर, उपाध्‍यक्ष के लिए प्रियंका और सचिव पद के लिए अंकित सिंह सांगवान को चुना. वहीं, संयुक्‍त सचिव पद पर एनएसयूआई के मोहित गरिड ने जीत हासिल की.

एबीवीपी ने इस जीत को राष्ट्रवाद के मुद्दे से जोड़कर देखा. इसके साथ ही एबीवीपी ने कैंपस में अपनी मौजूदगी को भी जीत की वजह माना. वहीं, एनएसयूआई ने छात्रों के हितों को ध्यान में रखने की अपनी नीति को जीत का श्रेय दिया है.

टिप्पणियां

दिल्‍ली यूनिवर्सिटी स्‍टूडेंट यूनियन के चुनावों में इस साल महज़ 36 फीसदी वोट पड़े. छात्रों के लिए नोटा का विकल्प भी था, लेकिन इसका इस्तेमाल ज़्यादा नहीं हुआ. लेफ़्ट दल भी गठबंधन बनाकर चुनाव में उतरे, लेकिन डीयू में उनके हाथ कुछ नहीं लगा. दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनावों के नतीजों के समीकरण इस साल बदले हुए थे. एक ओर जहां राष्ट्रवाद को मुद्दा बनाकर चुनाव लड़ने वाली एबीवीपी तीन पदों पर विजयी रही, वहीं जानकारों के मुताबिक CSYY के चुनाव न लड़ने और वोटिंग के कम होने का फायदा एनएसयूआई को हुआ और वो भी एक पद पर विजयी रही.


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement