महिला पत्रकार की बहादुरी से पकड़े गए मोबाइल झपटमार, दिल्ली पुलिस ने किया सम्मानित

12 सितम्बर को दोपहर करीब 1 बजे दूरदर्शन की एक महिला पत्रकार ऑटो से मालवीय नगर जा रही थी.रास्ते में बाइक पर सवार 2 लड़के आये और उनका मोबाइल फोन छीन लिया...

महिला पत्रकार की बहादुरी से पकड़े गए मोबाइल झपटमार, दिल्ली पुलिस ने किया सम्मानित

पुलिस ने महिला पत्रकार को उसकी बहादुरी के लिए सम्मानित किया है.

नई दिल्ली:

Delhi Mobile Snatcher : दक्षिण पूर्वी दिल्ली में एक महिला पत्रकार का मोबाइल जब बाइक सवार 2 लड़कों ने छीन लिया तो न सिर्फ महिला पत्रकार ने बहादुरी दिखाते हुए ऑटो से उनका पीछा किया, बल्कि पुलिस और ऑटो ड्राइवर की मदद से बदमाशों को पकड़ भी लिया. पुलिस ने महिला पत्रकार को बहादुरी दिखाने के लिए सम्मानित किया है.

दक्षिण पूर्वी दिल्ली के डीसीपी आरपी मीणा के मुताबिक, 12 सितम्बर को दोपहर करीब 1 बजे दूरदर्शन की एक महिला पत्रकार ऑटो से मालवीय नगर जा रही थी. जब वह रविदास मार्ग पर मजीदिया हॉस्पिटल के नज़दीक पहुंची तो बाइक पर सवार 2 लड़के आये और उनका मोबाइल फोन छीन लिया और दोनों बदमाश जगदम्बा रोड की तरफ भागे.

यह भी पढ़ें- झपटमारों का शिकार बनीं सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता की पत्नी, मंडी हाउस के पास फोन छीना

महिला पत्रकार नें दोनों बदमाशों का "चोर-चोर...पकड़ो-पकड़ो..." चिल्लाते हुए पीछा किया. इसी बीच आगे पुलिस का बैरिकेड लगा हुआ था, उसके पहले ही दोनों बदमाश बाइक से गिर पड़े. उनके गिरते हुए ऑटो ड्राइवर और महिला पत्रकार ने बदमाशों को पकड़ा और तुरंत पास खड़े पुलिसवालों हेड कॉन्स्टेबल रमेश और कॉन्स्टेबल राजकुमार ने झपटमारों को दबोच लिया.

यह भी पढ़ें-  हमें नहीं पता था कि शिकायत करने वाली महिला पीएम मोदी की भतीजी है: दिल्ली पुलिस

दोनों झपटमार तुग़लकाबाद के रहने वाले हैं. उन्होंने पुलिस की पूछताछ में बताया कि नशे की लत पूरी करने के लिए वो इस तरह की वारदात करते हैं. पुलिस ने महिला पत्रकार को उसकी बहादुरी के लिए सम्मानित किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दिल्ली : कैब ड्राइवर की ग्रेटर नोएडा में हत्या