NDTV Khabar

दिल्ली: विदेशी नागरिक पर्यटन की आड़ में कर रहे हैं तस्करी, पुलिस ने किया यह बड़ा खुलासा

दिल्ली में विदेशी नागरिक पर्यटन की आड़ में तस्करी कर रहे हैं. यह लोग टूरिस्ट वीजा पर भारत आते हैं और अपने साथ भारी तादाद में विदेशी सिगरेट लाते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली: विदेशी नागरिक पर्यटन की आड़ में कर रहे हैं तस्करी, पुलिस ने किया यह बड़ा खुलासा

पुलिस के हत्थे चढ़ा तस्कर.

खास बातें

  1. विदेशी नागरिक पर्यटन की आड़ में कर रहे हैं तस्करी
  2. पुलिस ने किया यह बड़ा खुलासा
  3. दो तस्कर गिरफ्तार
नई दिल्ली:

दिल्ली में विदेशी नागरिक पर्यटन की आड़ में तस्करी कर रहे हैं. यह लोग टूरिस्ट वीजा पर भारत आते हैं और अपने साथ भारी तादाद में विदेशी सिगरेट लाते हैं. गौरतलब है की एयरपोर्ट पर कड़ी सुरक्षा जांच के बाद भी इतनी भारी मात्रा में अवैध सिगरेट कैसे कस्टम की नाक के नीचे से निकाल ली जाती है. अवैध विदेशी सिगरटों की तस्करी के एक मामले का खुलासा दिल्ली पुलिस ने किया है. पहाड़गंज थाने की संगत राशन चौकी पुलिस ने विदेशी सिगरटों के दो तस्करों को गिरफ्तार किया है. इसमें एक उजबेकिस्तान का नागरिक और दूसरा दिल्ली के सदर बाजार का कारोबारी है. 26 जनवरी के चलते पहाड़गंज में पुलिस खास नज़र रखे हुए है. रात को पुलिस दल ने गश्त के दौरान एक व्यक्ति को दो पैकेट ले जाते हुए देखा. उस व्यक्ति ने पुलिस को देख कर रास्ता बदल दिया. पुलिस को शक हुआ और शक के आधार पर जब थैले खुलवाए तो उसमें विदेशी सिगरटों के पैकेट थे. पकड़े हुए इस शख्स का नाम कपिल है जो सदर बाजार का रहने वाला कारोबारी है. 

स्टूडेंट वीजा पर भारत आकर ड्रग्स सप्लाई कर रहा नाइजीरियन नागरिक गिरफ्तार


उसने बताया कि उसने पहाड़ गंज के सुपर्ब होटल में ठहरे एक उज्बेकिस्तानी नागरिक से खरीदी है.  पुलिस ने तुरंत पहाड़ गंज ACP संजय गुप्ता और SHO सुनील चौहान को इत्तला दी. अधिकारियों के निर्देश के बाद पुलिस टीम बनाई गई. सब चौकी इंचार्ज दीपक कुमार, सब इसंपेक्टर पवन यादव, ASI अभयराज, हवलदार मनोज और कांस्टेबल मनीष जोशी ने होटल के कमरा नंबर 213 पर छापा मारा तो वहां उज्बेकी नागरिक उमीद अब्जलोव मिला. उसके पास से विदेशी ब्रांड के 3700 सिगरेट के पैकेट बरामद हुए जो बिना कस्टम ड्यूटी और बिना बिल के थे और न ही उनपर स्वास्थ्य सम्बन्धी चेतावनियां छपी थीं. इस माल की कीमत लगभग 9 लाख रुपये आंकी गई है. 

चेन्नई में सोने की तस्करी का खुलासा, 11 करोड़ कैश और 7 किलो गोल्ड बरामद

पुलिस को जांच से पता चला कि उमीद अब्जलोव ताशकंद उज़्बेकीस्तान का रहने वाला है और सारा माल छिपाकर भारत लाया था. पुलिस को जांच से यह भी पता चला कि उमीद अब्जलोव टूरिस्ट वीजा पर भारत आता है और उसकी आड़ में तस्‍करी करता है. उमीद अब्जलोव के वीजा की जांच से पता चला यह 25 दिसंबर को आया और 29 दिसंबर को उज्बेकिस्तान चला गया. इसके बाद यह फिर 18 जनवरी को भारत आ गया. 18 जनवरी को पुलिस के छापे के बाद इसके पास से यह अवैध तरिके से लाइ गई भारी मात्रा में सिगरेट बरामद हुई. दूसरे आरोपी कपिल से 400 पैकेट बरामद हुए हैं, कपिल विदेशी तस्करों से संबन्ध रखता है और उनके द्वारा लाई गई अवैध सिगरटों को कमीशन पर बेचता था. 

डीआरआई ने 48 घण्टे के अंदर पकड़ा 100 किलो सोना, सात आरोपी गिरफ्तार

पुलिस पकड़े गए इस उज्बेकी नागरिक की सूचना भारत और उज्बेकिस्तान दूतावासों को भेज रही है.  इस सारे मामले में कस्टम विभाग भी सवालों के घेरे में है.

टिप्पणियां

VIDEO: 240 करोड़ की हेरोइन पकड़ी गई



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement