दिल्ली में इस्लामिक स्टेट (आईएस) का संदिग्ध गिरफ्तार

दिल्ली में इस्लामिक स्टेट (आईएस) का संदिग्ध गिरफ्तार

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

कुख्यात आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के एक संदिग्ध आतंकवादी को राष्ट्रीय राजधानी में गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने मोहसिन इब्राहिम सईद (26) को गुरुवार देर रात कश्मीरी गेट स्थित अंतरराज्यीय बस टर्मिनल (आईएसबीटी) से गिरफ्तार किया। वह मुंबई के मलाड उपनगर का रहने वाला है।

विशेष पुलिस आयुक्त (स्पेशल सेल) अरविंद दीप ने बताया, "हमने मुखबिर की सूचना पर आईएस संदिग्ध मोहसिन इब्राहिम को गिरफ्तार किया और उसके कब्जे से 85,000 रुपये नकद बरामद किए हैं।" उन्होंने कहा कि सईद 19 जनवरी को उत्तराखंड के हरिद्वार जिले से गिरफ्तार किए गए चार आईएस संदिग्धों के संपर्क में था।

सईद की गिरफ्तारी के साथ ही दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आईएस संदिग्धों की संख्या पांच हो गई है। गिरफ्तार किए गए चार अन्य संदिग्धों की पहचान अखलाक-उर-रहमान, मोहम्मद ओसामा उर्फ आदिल, मोहम्मद अजीमू शान एवं मेहराज के रूप में हुई थी।

उनकी हरिद्वार में चल रहे अर्ध कुंभ मेले के दौरान दिल्ली से रूड़की-हरिद्वार की ओर जाने वाली ट्रेनों और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के कुछ हिस्सों में बम विस्फोटों को अंजाम देने की साजिश थी।

अर्धकुंभ तीर्थयात्रा 1 जनवरी से शुरू हुआ है और 30 अप्रैल को समाप्त होगा। चार महीने की धार्मिक यात्रा के दौरान पांच करोड़ से अधिक लोगों के हरिद्वार में गंगा स्नान करने की संभावना है।

अधिकारी ने कहा कि सईद ने गिरफ्तार चार अन्य संदिग्धों के लिए धन का इंतजाम किया और 50 हजार से अधिक रुपये अखलाक को दिए। उसके खिलाफ अवैध गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

जांच में शामिल एक अन्य अधिकारी ने कहा कि गिरफ्तार किए गए आईएस के सभी संदिग्ध इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) के पूर्व सदस्य सफी अरमार के संपर्क में थे और आईएस की विचारधारा से प्रभावित लोगों की भर्ती का काम भी अरमार ही कर रहा है।  खुफिया सूत्रों ने कहा कि माना जा रहा है कि अरमार अभी सीरिया में है और इस्लामिक स्टेट की भर्ती शाखा अंसार-उल-तौहिद का मुख्य सदस्य है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com