NDTV Khabar

जामिया की एलुमनाई मीट में जुटे पुराने छात्र, ‘चाइल्ड गाइडेंस सेंटर' की मदद को बढ़ाया हाथ

एलुम्नाई एसोसिएशन ऑफ़ जामिया मिल्लिया इस्लामिया(आजमी) और ग्लोबल जामिया अलुम्नाई नेटवर्क (जीजान) के बैनर तले जामिया में सेकेण्ड अलुम्नाई डे और जौहर अवार्ड सेरेमनी का आयोजन किया गया .

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जामिया की एलुमनाई मीट में जुटे पुराने छात्र, ‘चाइल्ड गाइडेंस सेंटर' की मदद को बढ़ाया हाथ

एलुमनाई मीट में पुराने छात्र जुटे और एक-दूसरे के साथ अनुभव साझा किये.

नई दिल्ली :

एलुम्नाई एसोसिएशन ऑफ़ जामिया मिल्लिया इस्लामिया(आजमी) और ग्लोबल जामिया अलुम्नाई नेटवर्क (जीजान) के बैनर तले जामिया में सेकेण्ड अलुम्नाई डे और जौहर अवार्ड सेरेमनी का आयोजन किया गया . 23 दिसम्बर को जामिया के अंसारी ऑडिटोरियम लॉन में आयोजित हुई इस अलुम्नाई मीट में करीब 2 हज़ार पूर्व छात्रों ने हिस्सा लिया . देश के अलावा अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, दुबई, बहरीन, क़तर समेत कई और दूसरे मुल्कों से भी पूर्व छात्रों इसमें शामिल हुए. जामिया के कुलपति प्रो. शाहिद अशरफ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि और रजिस्ट्रार श्री ए.पी. सिद्दीकी(आई.पी.एस) गेस्ट ऑफ़ ऑनर थे. दिल्ली सरकार में मंत्री इमरान हुसैन, उत्तर प्रदेश सरकार में पूर्व मंत्री कमाल अख्तर, आरजे नावेद, स्वामी चेतेश्वरानद समेत राजनीति, कारोबार, मीडिया, इंजीनियरिंग, विज्ञान के क्षेत्रों में जामिया का नाम रौशन कर रहे बहुत से नामी-गिरामी पूर्व छात्र इस आयोजन में शामिल हुए. मंच की कमान जामिया के जनसंपर्क अधिकारी एवं मीडिया कोऑर्डिनेटर अहमद अज़ीम संभाली. 

जामिया मिल्लिया इस्लामिया में ''रूफ़टाॅप सोलर ग्रिड इंजीनियर'' ट्रेनिंग प्रोग्राम 14 जनवरी से होगा शुरू


टिप्पणियां

इस आयोजन का सबसे आकर्षक पहलू यह था कि पूर्व छात्रों ने जामिया कैंपस में एक गैर सरकारी संस्था द्वारा चलाये जा रहे स्कूल ‘चाइल्ड गाइडेंस सेंटर' के लिए करीब 5 लाख रूपये का चंदा. यह स्कूल मानसिक रूप से कमज़ोर बच्चो के लिए चलाया जा रहा है जो इस वक़्त आर्थिक तंगी से गुज़र रहा है और बंद होने के कगार पर है. दान देने वाले सभी छात्रों ने मंच पर चेक रजिस्ट्रार को सौंपे. जामिया के कुलपति प्रो. शाहिद अशरफ ने इस अवसर पर कहा, ”यह बहुत ख़ुशी की बात है की पूर्व छात्र इतनी बड़ी संख्या में इस आयोजन में आये और एक अच्छे कार्य के लिए अपना योगदान दिया . विवि को आगे ले जाने में पूर्व छात्रों की भूमिका बहुत अहम है”. अलग-अलग क्षेत्रों में अपना और जामिया का नाम रौशन कर रहे बहुत से पूर्व छात्रों को इस मौके पर सम्मानित भी किया गया. एलुम्नाई एसोसिएशन ऑफ़ जामिया मिल्लिया इस्लामिया(आजमी) के अध्यक्ष शिफा उर्र रहमान ने अलुम्नाई एसोसिएशन (आजमी) द्वारा किये जा रहे कामों के बारे में लोगों को बताया और आजमी के सचिव बदर आलम ने साल-भर का लेखा-जोखा पेश किया. 

क़तर में भव्य तरीके से मना जामिया का 98वां स्थापना दिवस



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement