खुद को सेंट्रल विजिलेंस कमीशन का डिप्टी डायरेक्टर बताने वाला नकली IAS मुंबई से गिरफ्तार

खुद को सेंट्रल विजिलेंस कमीशन का डिप्टी डायरेक्टर बताने वाला नकली IAS मुंबई से गिरफ्तार

विनय कुमार खाटू आईएएस ऑफिसर बनना चाहता था

नई दिल्‍ली:

दक्षिणी दिल्ली पुलिस ने एक नकली आईएएस को गिरफ्तार किया है जो खुद को सेंट्रल विजिलेंस कमीशन का डिप्टी डायरेक्टर बताता था और लोगों को ठगता था.

पुलिस के मुताबिक इसी साल 8 अगस्त को सेंट्रल विजिलेंस कमीशन की तरफ से कोटला मुबारकपुर थाने शिकायत मिली कि विनय कुमार खाटू नाम का एक शख्स खुद को विजिलेंस कमीशन का डिप्टी डायरेक्टर बता कर लोगों को ठग रहा है जबकि विजिलेंस कमीशन में ऐसा कोई अधिकारी है ही नहीं.

पुलिस के मुताबिक कई महीने की जांच के बाद नकली आईएएस को मुंबई के सांताक्रुज इलाके से पकड़ा गया. पूछताछ में उसने बताया कि 2004 में उसने पुणे से एलएलबी पढ़ाई पूरी की और उसके बाद वो प्रॉपर्टी का काम करने लगा. विनय को आईएएस बनने का शौक था इसलिए उसने सिविल सर्विस एग्जाम की तैयारी शुरू कर दी, लेकिन कई बार एग्जाम देने के बाद भी वो सफल नहीं हो सका.

विनय के मुताबिक जब उसके दोस्त, रिश्तेदार और जानकार ये पूछने लगे कि उसका एग्जाम में क्या हुआ तो उसे अच्छा नहीं लगता था. इसलिए वो कई सालों से अपने सभी जानकारों को यही बता है कि आईएएस बन गया है और फिलहाल उसकी पोस्टिंग सेंट्रल विजिलेंस कमीशन में डिप्टी डायरेक्टर के तौर पर है. विनय ने कई लोगों को उनके काम कराने के बाद ठगा भी. इतना ही नहीं विनय कुमार खाटू ने अपने कई वीडियो और तस्वीरें सोशल साइट्स पर भी डाले और खुद को आईएस बताया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com