NDTV Khabar

'नॉट इन माइ नेम' : धर्म और जाति के नाम पर हो रही हत्याओं के खिलाफ प्रदर्शन आज...

दिल्ली में बुधवार शाम जंतर-मंतर पर 6 बजे एक विरोध-प्रदर्शन हो रहा है, जिसमें भीड़ द्वारा जगह-जगह की जा रही हत्याओं के खिलाफ आवाज़ उठाई जाएगी. 'नॉट इन माइ नेम' शीर्षक से होने जा रहा यह प्रदर्शन दिल्ली के अलावा देश के 10 और शहरों में भी किया जाएगा.

1.9K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
'नॉट इन माइ नेम' : धर्म और जाति के नाम पर हो रही हत्याओं के खिलाफ प्रदर्शन आज...

सबा दीवान की फेसबुक पोस्ट दिल्ली के पास ट्रेन में जुनैद की भीड़ द्वारा हत्या के खिलाफ थी...

खास बातें

  1. फिल्मनिर्माता सबा दीवान ने जुनैद की हत्या के विरुद्ध फेसबुक पोस्ट किया था
  2. सोशल मीडिया पर सबा की लगाई गई पोस्ट और तस्वीर वायरल हो गई है
  3. दिल्ली में बुधवार शाम जंतर-मंतर पर 6 बजे विरोध-प्रदर्शन हो रहा है
नई दिल्ली: फिल्म निर्माता सबा दीवान ने जब दिल्ली के पास ट्रेन में एक युवक की भीड़ द्वारा हत्या के खिलाफ फेसबुक पोस्ट लगाई थी, तो उन्हें एहसास भी नहीं था कि उस पर उन्हें व्यापक समर्थन मिलेगा. सोशल मीडिया पर सबा द्वारा लगाई गई पोस्ट और तस्वीर वायरल हो गई है.

दिल्ली में बुधवार शाम जंतर-मंतर पर 6 बजे एक विरोध-प्रदर्शन हो रहा है, जिसमें भीड़ द्वारा जगह-जगह की जा रही हत्याओं के खिलाफ आवाज़ उठाई जाएगी. 'नॉट इन माइ नेम' शीर्षक से होने जा रहा यह प्रदर्शन दिल्ली के अलावा देश के 10 और शहरों में भी किया जाएगा.

ईद से ठीक पहले दिल्ली के बाहर भीड़ द्वारा ट्रेन में जुनैद नाम के लड़के की हत्या कर दी गई थी. उससे पहले भी पिछले कुछ वक्त में भीड़ द्वारा लोगों के मारे जाने की घटनाएं बढ़ रही हैं. पिछले दिनों कश्मीर में भी एक पुलिस अफसर को भी भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला था. सबा दीवान का कहना है, "समाज में धर्म और जाति के नाम पर जो हिंसा हो रही है, उसका विरोध करने के लिए यह प्रदर्शन है. 'नॉट इन माइ नेम' (मेरे नाम से नहीं) लिखी तख्तियां दिखाकर लोग यह कहना चाहते हैं कि वे इन हत्याओं के खिलाफ हैं और इनकी निंदा करते हैं..."

सबा दीवान ने अपनी ताज़ा फेसबुक पोस्ट में लिखा है, "मैं अकेली नहीं हूं... मैं इस विरोध-प्रदर्शन का बहुत छोटा हिस्सा हूं, जिसे अब हज़ारों लोग चला रहे हैं... अजनबी अब साथी बन चुके हैं... ये वे लोग हैं, जो भारत के संविधान पर भरोसा करते हैं... ये वे लोग हैं, जो बराबरी, मानवीय गरिमा और आत्मसात करने के मूल्यों के साथ हैं..." यह प्रदर्शन दिल्ली के अलावा चंडीगढ़, कोलकाता, बेंगलुरू, हैदराबाद और त्रिवेंद्रम समेत कई शहरों में आयोजित होगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement