दक्षिणी दिल्ली के चितरंजन पार्क में निर्माणाधीन इमारत गिरने से एक की मौत, तीन घायल

दिल्ली दमकल सेवा के निदेशक अतुल गर्ग ने बताया, ‘अपराह्न दो बजकर 30 मिनट पर शुरू हुए बचाव अभियान में 35 कर्मियों ने हिस्सा लिया और यह रात आठ बजकर 30 मिनट तक चला.’

दक्षिणी दिल्ली के चितरंजन पार्क में निर्माणाधीन इमारत गिरने से एक की मौत, तीन घायल

खास बातें

  • रविवार को एक निर्माणाधीन इमारत गिर गई
  • 32 वर्षीय एक मजदूर की मौत हो गई
  • मृतक व्यक्ति की पहचान तूरमाल मंडल के रूप में की गई है
नई दिल्ली:

दक्षिण दिल्ली की चितरंजन पार्क इलाके में रविवार को एक निर्माणाधीन इमारत गिरने से उसकी चपेट में आकर 32 वर्षीय एक मजदूर की मौत हो गई जबकि अन्य तीन घायल हुए हैं. अधिकारियों ने बताया कि मृतक व्यक्ति की पहचान तूरमाल मंडल के रूप में की गई है. पुलिस बताया कि हादसे में सुदामा (21), संजय (30) और तपन मंडल (25) नामक तीन लोग घायल हुए हैं और उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है और वे खतरे से बाहर हैं. उन्होंने बताया कि इमारत बनाने वाले ठेकेदार की पहचान नीदिश गुप्ता के रूप में हुई है और वह फरार है.

दमकल विभाग ने बताया कि अपराह्न दो बजकर 13 मिनट पर इमारत गिरने की सूचना मिली जिसके तुरंत बाद दमकल की पांच गाड़ियां घटनास्थल पर भेजी गईं. दिल्ली दमकल सेवा के निदेशक अतुल गर्ग ने बताया, ‘अपराह्न दो बजकर 30 मिनट पर शुरू हुए बचाव अभियान में 35 कर्मियों ने हिस्सा लिया और यह रात आठ बजकर 30 मिनट तक चला.' पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान पाया गया कि सीआर पार्क के ई-485 के तलघर में खुदाई के दौरान दीवार गिरी और मलबे में चार मजदूर दब गए.

मुंबई : लैब टेक्नीशियन महिला का पीछा करने वाले डॉक्टर पर मामला दर्ज

उन्होंने बताया कि सूचना पाकर दमकल कर्मी और आपदा प्रबंधन दल बचाव अभियान के लिए पहुंचा. पुलिस ने बताया कि भारतीय दंड संहिता की धारा 337 (गतिविधि से व्यक्ति की जान को खतरे में डालना), 304 एक (लापरवाही की वजह से मौत) और 288 (इमारत को गिराने या मरम्मत के दौरान लापरवाही) के तहत मामला दर्ज किया गया है. इसी दौरान पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के वैष्णवनगर इलाके में रविवार की शाम को एक निर्माणाधीन पुल ढह गया जिसमें दो मजदूरों की मौत हो गई और सात अन्य जख्मी हो गए.

पंजाब : संगरूर में स्कूल वैन से घर लौट रहे थे बच्चे, अचानक लगी आग, 4 बच्चों की दर्दनाक मौत

इस हादसे के बारे में पुलिस ने बताया कि घटना तब हुई जब दूसरे फरक्का पुल का गार्डर शाम करीब आठ बजे ढह गया. उन्होंने कहा कि मलबे में और मजदूर दबे हो सकते हैं. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दो मजदूरों की मौत हो गई जबकि सात अन्य का इलाज मालदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चल रहा है. उन्होंने कहा कि सातों जख्मी लोगों की हालत गंभीर बताई जाती है. अधिकारी ने बताया कि आपदा प्रबंधन विभाग के कर्मी बचाव अभियान चला रहे हैं. पुलिस ने कहा कि दुर्घटना के कारणों का अभी तक पता नहीं चला है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com