NDTV Khabar

दिल्‍ली: जब पुलिसवालों ने स्‍कूटी सवार बदमाशों को रोका तो उन्‍होंने कर दी फायरिंग और फिर...

दिल्ली के अलीपुर इलाके में मुखमेलपुर गांव के पास दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को एक सूचना थी कि यहां से सुबह-सुबह टिल्लू गैंग के दो मेंबर स्कूटी से गुजरने वाले हैं.  

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्‍ली: जब पुलिसवालों ने स्‍कूटी सवार बदमाशों को रोका तो उन्‍होंने कर दी फायरिंग और फिर...

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एनकाउंटर के बाद दो बदमाशों को गिरफ्तार किया

नई दिल्ली: दिल्ली के अलीपुर इलाके में मुखमेलपुर गांव के पास दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को एक सूचना थी कि यहां से सुबह-सुबह टिल्लू गैंग के दो मेंबर स्कूटी से गुजरने वाले हैं.  पुलिस ने ट्रैप लगाकर अपनी टीमें तैनात कर दी थी जैसे ही पुलिस ने स्कूटी सवार दोनों बदमाशों को रोकना चाहा दोनों बदमाशों ने फायरिंग कर दी, जिसमें दो गोलियां पुलिस के जवानों की बुलेट प्रूफ जैकेट पर जाकर लगी पुलिस ने पहले ही बुलेट प्रूफ जैकेट के इंतजाम किए थे. इस कारण पुलिस के जवान बदमाशों की गोली से बाल-बाल बचे.  इसके बाद पुलिस ने उन्हें पकड़ने के लिए जवाबी फायरिंग की तो एक बदमाश को पांव में गोली मारकर पकड़ा गया तो दूसरे बदमाश को बिना गोली मारे ही पकड़ लिया गया.

टिल्लू गैंग के जिस बदमाश को पांव में गोली लगी है वह भी पांव के काफी नीचे के हिस्से में लगी है इसलिए वह खतरे से बाहर है, जिसे इलाज के लिए दिल्ली पुलिस नरेला के सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल लेकर गई है. सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में ले जाए गए इस बदमाश का नाम नितेश है.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की जनकपुरी टीम को गुप्त सूचना थी जिसके आधार पर मंजीत नाम के बदमाश को बीती रात कंझावला से गिरफ्तार किया गया. कंझावला से पकड़े गए बदमाश मनजीत ने सूचना दी थी कि उसके दो साथी सुबह 5 बजे मुखमेलपुर गांव के पास पुश्ते रोड से स्कूटी पर जाने वाले हैं. उसी आधार पर पुलिस ने यहां जाल बिछाया था जिसमें नितेश और महेश को पकड़ लिया गया. नितेश को पांव में गोली लगी है उसे गिरफ्तार ने करके पहले ट्रीटमेंट करवाया जा रहा है. 

टिप्पणियां
सूत्रों की माने तो दोनों ही अलीपुर के पास के गांव ताजपुर के रहने वाले हैं. जिन दो पुलिसकर्मियों पर जाकर गोली लगी, उसमें ASI लव कुमार और SI गोपाल है.  बुलेट प्रूफ जैकेट होने के कारण की जान बच गई. फिलहाल टिल्लू गैंग के इन तीन बदमाशों को पकड़ लिया गया है, लेकिन पिछले दिनों टीलु और गोगी गैंग की आपसी गैंगवार में दिल्ली में कई बेकसूर लोगों की जानें गई. बुराड़ी में सरेआम सड़क पर दोनों गुटों में फायरिंग हुई जिसमें एक वेल्डिंग करने वाले बेकसूर शख्स की तो एक महिला जो नौकरी पर जा रही थी उसकी भी मौत बदमाशों की आपसी गोलीबारी में गोली लगने से हो गई थी और कई लोग घायल भी हुए थे. 

इसी तरह पीतमपुरा में जब बदमाशों ने एक दूसरे पर फायरिंग की जिसमें एक बदमाश की हत्या भी हुई लेकिन एक गोली पास में पान की दुकान लगाने वाले एक शख्स को भी लगी उसकी भी मौत हो गई थी. इस तरह से ये बदमाश आपसी गोलीबारी में बेगुनाह लोगों को भी साथ में शिकार बना रहे थे. अब जरूरत है गिरोह के सभी गुर्गों को दबोचा जाए और इनके मेन सरगना भी सलाखों के पीछे हो इसका इंतजार दिल्ली के लोगों को है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement