राशन कार्ड छपाई का फर्जी अनुबंध देने वाला गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ा

केन्द्र की ‘एक देश - एक राशन कार्ड’ योजना के तहत नये राशन कार्ड छपाने को लेकर यह गोरखधंधा चलाया जा रहा था.

राशन कार्ड छपाई का फर्जी अनुबंध देने वाला गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ा

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  • नये राशन कार्ड छपाने को लेकर यह गोरखधंधा चलाया जा रहा था.
  • केन्द्र की ‘एक देश - एक राशन कार्ड’ योजना के तहत हो रहा था काम
  • केन्द्रीय मंत्री राव साहेब दादाराव दान्वे ने मंगलवार को यह जानकारी दी
नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस ने ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो कि दिल्ली में राशन कार्ड छपाई का ठेका देने के फर्जी काराबार में लिप्त पाया गया. केन्द्र की ‘एक देश - एक राशन कार्ड' योजना के तहत नये राशन कार्ड छपाने को लेकर यह गोरखधंधा चलाया जा रहा था. केन्द्रीय मंत्री राव साहेब दादाराव दान्वे ने मंगलवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि झारखंड के प्रत्युष कुमार और उसके सहयोगी विकास कुमार को इस मामले में राष्ट्रीय राजधानी में गिरफ्तार किया गया है. 

खाद्य एवं उपभोक्ता मामले राज्य मंत्री ने कहा, ‘सरकार की एक देश एक राशन कार्ड योजना के तहत नये राशन कार्ड की जरूरत नहीं है, लेकिन इस गिरोह ने लोगों को यह कहकर भ्रमित किया कि योजना के तहत नये राशन कार्ड की जरूरत है और इसके लिए एक निजी कंपनी को ठेका जारी किया गया. उन्होंने यह कार्य आधार ब्यौरे के साथ प्लास्टिक कार्ड की छपाई करने के लिये उप- ठेके के तौर पर दिया.' 

दिल्ली का टॉप मोस्ट क्रिमिनल गैंगस्टर पकड़ा गया, सिर पर है लाखों का इनाम

मंत्री ने कहा कि 6 फरवरी को उनके कार्यालय ने पुलिस को इस संबंध में सूचित किया. पुलिस को बताया गया कि उन्हें इस बारे में सूचनाएं मिल रही हैं कि कुछ लोग राशन कार्ड छपाई ठेका जारी करने जैसी धोखाधड़ी करने में लगे हैं. इसके बाद दो मार्च को महाराष्ट्र से मामले में पीड़ित एक व्यक्ति भगवत साहेबारो वायन ने मंत्रालय से संपर्क किया और मामले में शिकायत की. मामले को देखने के लिए एक टीम गठित की गई.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com