सलाहकार मामला: राघव चड्ढा ने 2.5 रुपये मेहनताना गृह मंत्रालय को लौटाया

चड्ढा ने कहा कि आप सरकार ने फरवरी 2015 में मुझे और शिक्षाविद आतिशी मर्लीना सहित कुछ अन्य विशेषज्ञों को बतौर सलाहकार नियुक्त किया था.

सलाहकार मामला: राघव चड्ढा ने 2.5 रुपये मेहनताना गृह मंत्रालय को लौटाया

राघव चड्ढ़ा की फाइल फोटो

खास बातें

  • मंगलवार को आप के 9 सलाहाकार हटाए गए थे
  • चड्ढ़ा ने कहा मैं जनता के हित में काम कर रहा था
  • काम के दौरान लिया गया ढ़ाई रुपये का वेतन लौटाया
नई दिल्ली:

गृह मंत्रालय द्वारा दिल्ली सरकार के सलाहकारों की नियुक्तियों रद्द करने के बाद 'आप' के नेता राघव चड्ढा ने अपना ढाई रुपये का मेहनताना लौटा दिया है. बुधवार को राघव चड्ढा ने इस बाबत गृहमंत्रालय को ढाई रुपये का डिमांड भेजा है. चड्ढ़ा ने कहा कि आप सरकार ने फरवरी 2015 में मुझे और शिक्षाविद आतिशी मर्लीना सहित कुछ अन्य विशेषज्ञों को बतौर सलाहकार नियुक्त किया था.

यह भी पढ़ें: राशन का OTP घोटाला : एलजी ने ACB जांच के निर्देश दिए

उन्होंने कहा कि आतिशी एक रुपये प्रति माह सांकेतिक वेतन पर काम कर रही थी और मैंने बजट बनाने में सरकार की मदद के लिए 75 दिन तक काम किया था, जिसके एवज में सरकार से ढाई रुपये मेहनताना लिया था. मैंने डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से केन्द्र सरकार को यह राशि वापस कर दी है. गौरतलब है कि मंगलवार को केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार के 9 सलाहाकारों की नियुक्ति रद्द कर दी थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: राजस्थान प्रभारी के पद से हटाए गए कुमार विश्वास.

वहीं पार्टी के प्रवक्ता दिलीप पांडे ने कहा कि मोदी सरकार ने दिल्ली सरकार के जनहित के कार्यों को ठप करने के लिए राजनीतिक द्वेष के कारण सलाहकारों की नियुक्ति रद्द करने के लिए यह फैसला किया है. उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता भाजपा की इस साजिश से वाकिफ है और उचित समय पर इसका जवाब भी देगी. (इनपु भाषा से)