दिल्ली के सरकारी अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल टली

रेजिडेंट डॉक्टरों द्वारा बनाए गए दबाव के आगे झुकते हुए दिल्ली सरकार ने मंगलवार को उनकी कुछ मांगों को स्वीकार कर लिया.

दिल्ली के सरकारी अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल टली

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में 1 नवंबर यानी बुधवार को होनी वाली हड़ताल टल गई है. रेजिडेंट डॉक्टरों द्वारा बनाए गए दबाव के आगे झुकते हुए दिल्ली सरकार ने मंगलवार को उनकी कुछ मांगों को स्वीकार कर लिया. इसमें ओपीडी अवधि के दौरान 45 मिनट का लंच ब्रेक देने और पंजीकरण अवधि को एक घंटा तक कम करना शामिल है. फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (फोर्डा) और दिल्ली सरकार के अधिकारियों के बीच बैठक के बाद डॉक्टरों ने हड़ताल पर न जाने का फैसला किया. दरअसल दिल्ली सरकार ने ओपीडी का समय दो घंटा बढ़ाने का आदेश दिया था, जिसके बाद रेजिडेंट डॉक्टर इस फैसले का विरोध कर रहे थे.

Newsbeep

अब सरकार ने जिन मांगों पर सहमति जताई है उसके मुताबिक रजिस्ट्रेशन का टाइम एक घंटा कम किया जाएगा. दोपहर 12:30 बजे के बाद किसी भी समय 45 मिनट का लंच ब्रेक होगा. दूसरा ब्रेक भी 10 से 15 मिनट लिया जा सकता है. दिसंबर के पहले हफ्ते में ओपीडी के समय को लेकर समीक्षा होगी और हो सकता है कि ओपीडी सुबह 9 बजे से शुरू हो.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ऑफिशियल टाइमिंग सुबह 8 बजे से शाम 3 बजे तक होगी. तमाम मुद्दों को लेकर अगली समीक्षा बैठक नवंबर के आखिरी हफ्ते में होगी.