NDTV Khabar

दिल्ली हवाई अड्डे पर लावारिस बैग से अफरातफरी मची, बाद में यात्री ने उस पर किया दावा

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर गुरुवार देर रात एक लावारिस बैग मिलने से अफरातफरी मच गई लेकिन बाद में अधिकारियों ने बताया कि एक यात्री ने कहा है कि वह उसका बैग है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. संदिग्ध बैग में आरडीएक्स होने की आशंका
  2. सुरक्षा एजेंसियां जांच में जुटी हैं
  3. शुक्रवार तड़के मिला था संदिग्ध बैग
नई दिल्ली :

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर गुरुवार देर रात एक लावारिस बैग मिलने से अफरातफरी मच गई लेकिन बाद में अधिकारियों ने बताया कि एक यात्री ने कहा है कि वह उसका बैग है जिसे वह टर्मिनल तीन के बाहर भूल गया था. अधिकारियों ने बताया कि बैग में एक लैपटॉप, उसका चार्जर, कुछ खिलौने और कपड़े थे. उन्होंने बताया कि बैग में आरडीएक्स या कोई और विस्फोटक नहीं था. बैग को उस पर दावा करने वाले यात्री की मौजूदगी में खोला गया. सूत्रों ने बताया कि शाहिद हुसैन ने हवाई अड्डा प्राधिकारियों से सम्पर्क किया. उसने बैग इससे लगभग 16 घंटे पहले कथित रूप से भूलवश छोड़ दिया था. उसने कहा कि वह स्पाइसजेट के एक विमान से मुम्बई से यहां पहुंचा और बैग इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर गुरुवार देर रात टर्मिनल-3 के बाहर भूल गया.     

दिल्ली: पांडव नगर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, 4 गिरफ्तार


सूत्रों ने बताया कि शख्स ने संयुक्त जांच दल के अधिकारियों को बताया कि बैग में अन्य चीजों के अलावा एक लैपटॉप भी है. व्यक्ति को एक एकांत स्थान पर ले जाया गया जहां काले रंग के ट्राली बैग को एक मोटी धातु से बने बम निष्क्रिय कंटेनर के भीतर रखा गया. शुरूआत में बैग में आरडीएक्स होने की आशंका पैदा होने पर संवेदनशील हवाई अड्डे पर सुरक्षा व्यवस्था में खलबली मच गई. इस संबंध में संदेह और बढ़ गया क्योंकि आगमन टर्मिनल के बाहर जिस स्थान पर बैग रखा हुआ था वहां CCTV कवरेज कम था. काले रंग के बैग को सबसे पहले CISF के एक कर्मी ने गुरुवार देर रात करीब एक बजे देखा और उसे सीआईएसएफ, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के बम विशेषज्ञों और फारेंसिक कर्मियों ने एकांत स्थान पर निगरानी में रखा. 

दिल्ली एयरपोर्ट से 2 करोड़ से ज्यादा का सोना बरामद, 4 लोग गिरफ्तार

बैग मिलने के कुछ ही देर बाद पुलिस उपायुक्त (हवाई अड्डा) संजय भाटिया ने कहा था, ‘‘सीआईएसएफ की मदद से बैग को वहां से हटाकर दूसरी जगह ले जाया गया. अभी तक उसे खोला नहीं गया है. ऐसा प्रतीत होता है कि उसके भीतर बिजली के तार हैं. हमने हवाई अड्डा परिसर की सुरक्षा बढ़ा दी है.''    सूत्रों ने पहले कहा था कि प्राथमिक जांच से प्रतीत होता है कि बैग में ‘आरडीएक्स' हो सकता है.  इसकी जांच विस्फोटक डिटेक्टर से की गई. बाद में एक खोजी कुत्ते की मदद से भी जांच की गई. सीआईएसएफ के विशेष महानिदेशक (हवाईअड्डा क्षेत्र) एम. ए गणपति ने हालांकि कहा था कि यह कहना जल्दबाजी होगी कि विस्फोटक ‘आरडीएक्स' है. 

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर बोले सीएम केजरीवाल- हमने वह सब किया जो कर सकते हैं और...

गणपति ने कहा, था ‘‘यह कुछ भी हो सकता है और शुरुआती कयास गलत हो सकते हैं. अभी इसे ‘आरडीएक्स' बताना बेहद जल्दबाजी होगी. हमें अंतिम आकलन रिपोर्ट का इंतजार करना चाहिए.'' दिल्ली पुलिस ने बताया कि गुरुवार देर रात करीब एक बजे एक संदिग्ध बैग के बारे में जानकारी मिली थी. इसके बाद टर्मिनल-3 के गेट नंबर दो (आगमन) के पास से एक बैग मिला. इस बीच, विमानन कंपनियों से जुड़े सूत्रों ने बताया था कि बैग मिलने के बाद कुछ देर के लिए यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई क्योंकि थोड़े समय के लिए आगमन टर्मिनल से लोगों को बाहर जाने से रोक दिया गया था. 

5 नवबंर तक दिल्ली के सभी स्कूल बंद, बढ़ते प्रदूषण की वजह से लिया फैसला

टिप्पणियां

अधिकारियों ने बताया कि सीआईएसएफ और दिल्ली पुलिस ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की पूरी तरह से जांच की, जिसके बाद सुबह करीब चार बजे यात्रियों की आवाजाही बहाल की गई. उन्होंने बताया कि सीआईएसएफ और पुलिस ने मानक प्रक्रिया के तहत वहां सुरक्षा बढ़ा दी थी. दिल्ली हवाई अड्डे पर तीन टर्मिनल हैं और टर्मिनल तीन से घरेलू के साथ ही अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी संचालित होती हैं. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement