दिल्ली सरकार के स्क्रीनिंग सेंटरों पर हजारों की भीड़, घर जाने वाले लोगों ने बयां किए दर्द

देश में मजदूरों का पलायन जारी है. काम धंधा बंद होने के कारण लोग अपने घरों की ओर लौट रहे हैं. दिल्ली सरकार के स्क्रीनिंग सेंटरों पर हजारों लोगों की भीड़ है जो तपती गर्मी खड़े होकर तमाम परेशानियों को झेलते हुए घर जाना चाहते हैं.

नई दिल्ली:

देश में मजदूरों का पलायन जारी है. काम धंधा बंद होने के कारण लोग अपने घरों की ओर लौट रहे हैं. दिल्ली सरकार के स्क्रीनिंग सेंटरों पर हजारों लोगों की भीड़ है जो तपती गर्मी खड़े होकर तमाम परेशानियों को झेलते हुए घर जाना चाहते हैं.

रामप्रसाद अपने 9 लोगों के परिवार के साथ 2 ट्रैक्टरों में सवार होकर पठानकोट से गुरुवार को चले हैं. दिल्ली पहुंचे हैं. पूरी गृहस्थी इन्हीं ट्रैक्टरों पर लदी है. अब ये अपने घर मध्य प्रदेश के छतरपुर जा रहे हैं. रामप्रसाद के मुताबिक 30 सालों से उनका पूरा परिवार सड़क के निर्माण कार्य में इन्हीं ट्रैक्टरों के जरिये काम कर रहा था. लॉकडाउन लगते ही काम बंद हो गया. बेटी की शादी भी नहीं हो पाई,अब तक किसी तरह पठानकोट में लोगों की मदद से खाना खाते रहे लेकिन जब रोजी-रोटी की कोई उम्मीद नहीं दिखी तो अपने घर छतरपुर चल दिये.

पलायन की ही ये तस्वीरें दिल्ली के रोहिणी इलाके की हैं. दिल्ली के सुल्तानपुरी में रहने वाली शांति देवी शनिवार सुबह से अपने 5 बच्चों के साथ एक स्कूल के बाहर खड़ी हैं. ये दिल्ली सरकार का स्क्रीनिंग सेंटर है. जहां से रजिस्ट्रेशन और मेडिकल जांच के बाद ट्रेन में बिठाया जाएगा. शांति देवी घरों में काम करती थीं, अब उनका काम बंद हो गया है. पति बीमार रहते हैं इसलिए वो बच्चों को लेकर घर जा रही है.

स्क्रीनिंग सेंटर पर घर जाने वाले हजारों लोगों की भीड़ है. लोग एक दूसरे से सटकर खड़े हुए हैं. सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं. तपती गर्मी में लोग घंटों से खड़े हैं. किसी को खाना-पानी मिला तो किसी को नहीं. पुलिस से नोकझोंक भी हो रही है, लेकिन मजबूरी के चलते ये हर मुश्किल झेलने को तैयार हैं.

दिल्ली सरकार ने सभी 9 जिलों में अलग-अलग स्क्रीनिंग सेंटर बनाएं हैं, लेकिन हर जगह मजदूरों की भीड़ और लंबी-लंबी लाइन देखी जा सकती हैं. सरकार का दावा है कि वो मजदूरों का पूरा ख्याल रख रही है. उत्तर पश्चिमी जिला के एडीएम अमित कुमार ने कहा, ''हम सबको सुबह बुलाते हैं लेकिन कुछ लोग रात में ही पहुंच जाते हैं और लाइन में लग जाते हैं.'' जब तक दिल्ली और एनसीआर से मजदूरों का पलायन जारी है. बदहाली की ये तस्वीरें सामने आती रहेंगी.

वीडियो: लॉकडाउन में इस तरह बुजुर्गों की मदद कर रहा 'हेल्पेज इंडिया'

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com