शनिवार से प्रभावित इलाकों में सामान्य होगी पानी की सप्लाई, सोनिया विहार-भागीरथी प्लांट शुरू

"दिल्ली जल बोर्ड पानी की सप्लाई को सामान्य करने के लिए लगातार युद्ध स्तर पर काम कर रहा है. मैं बताना चाहता हूं कि अगर संभव हुआ तो आज शाम या फिर कल सुबह तक सभी प्रभावित इलाकों में पानी की सप्लाई सामान्य हो जाएगी."

शनिवार से प्रभावित इलाकों में सामान्य होगी पानी की सप्लाई, सोनिया विहार-भागीरथी प्लांट शुरू

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

दिल्ली जल बोर्ड (DJB) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढ़ा (Raghav Chadha) ने दक्षिणी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली और उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों में शनिवार से जारी पानी की शॉर्टेज की वजह को लेकर संदेश जारी किया. उन्होंने बताया कि अमोनिया का स्तर बढ़ने से सोनिया विहार और भागीरथी वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में कामकाज प्रभावित हो गया था जिससे कुछ इलाकों में पानी की शॉर्टेज हुई.

आप नेता ने कहा, "हरियाणा से जो पानी यमुना में छोड़ा जाता है यानि जो पानी दिल्ली आता है उसमें अमोनिया का स्तर काफी बढ़ गया है. इसका मतलब है कि पानी में प्रदूषण काफी बढ़ गया जिसकी वजह से अमोनिया का स्तर 3PPM (पार्ट्स पर मिलियन) तक चला गया है. पानी में इस बढ़ते प्रदूषण की वजह से सोनिया विहार और भागीरथी वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में कामकाज प्रभावित हुआ और प्लांट को बंद करना पड़ा."

दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष ने बताया कि इन दोनों प्लांट की क्षमता कुल मिलाकर 250 MGD है और इन प्लांट्स के बंद होने की वजह से दक्षिणी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली और उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों में कल से पानी की शॉर्टेज हुई. "ये दोनों ट्रीटमेंट प्लांट दिल्ली जल बोर्ड के बड़े प्लांट हैं, भागीरथी प्लांट की क्षमता 110 MGD है और सोनिया विहार प्लांट की क्षमता 140 MGD है. इसके अलावा हम लोग हरियाणा सरकार से भी बातचीत करके इसका स्थायी समाधान खोजने पर लगे हुए हैं. मुझे ये बताते हुए खुशी हो रही है कि इन दोनों प्लांट्स में  50% क्षमता के साथ कामकाज शुरू हो गया है और हमें गंदगी साफ करने में सफलता मिल गई है.

चड्ढ़ा ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार से भी बातचीत जारी है क्यों दिल्ली में गंगा का पानी उत्तर प्रदेश के रास्ते से आता है. "हमने उत्तर प्रदेश सरकार से भी मदद की अपील की है. ऊपरी गंग नहर में सालाना मेंटेनेंस जारी होने की वजह से भी दिल्ली में पानी की सप्लाई प्रभावित हुई है. पानी की समस्या को दूर करने के लिए हम लगातार हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सरकारों से बातचीत कर रहे हैं और उनका सहयोग मांग रहे हैं. हमें ये समझने की जरूरत है कि दिल्ली चारों तरफ से जमीन से घिरा हुआ प्रदेश है ऐसे में अगर दिल्ली तक आने वाले पानी में अमोनिया बढ़ता है तो हमें अपने ट्रीटमेंट प्लांट बंद करने पड़ते हैं."

"दिल्ली जल बोर्ड पानी की सप्लाई को सामान्य करने के लिए लगातार युद्ध स्तर पर काम कर रहा है. मैं बताना चाहता हूं कि अगर संभव हुआ तो आज शाम या फिर कल सुबह तक सभी प्रभावित इलाकों में पानी की सप्लाई सामान्य हो जाएगी."

सोनिया विहार और भागीरथी प्लांट बंद होने की वजह से दक्षिणी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली और NDMC के जिन इलाकों में पानी की सप्लाई प्रभावित हुई वो इलाके हैं-गोकुलपुरी, सोनिया विहार, करावल नगर,  बाबरपुर, ताहिरपुर, दिलशाद गार्डन, नंदनगरी, शाहदरा, लक्ष्मी नगर, गीता कॉलोनी, मयूर विहार, कोंडली, विवेक विहार, सीलमपुर, शास्त्री पार्क, ब्रह्मपुरी, गांधी नगर, सराय काले खां, ओखला, बदरपुर, सरिता विहार, वसंत कुंज, महरौली, ग्रेटर कैलाश, साउथ एक्सटेंशन, लाजपत नगर, लोधी रोड, काका नगर.

Newsbeep

दिल्ली जल बोर्ड के पास 9 वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट और 8 सीवेज टेस्टिंग लैब्स हैं. हर लैब में सभी प्रकार की सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं और उनमें प्रशिक्षित कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है. इन लैब्स के लिए सीवर पंपिंग स्टेशन और नालों से सैंपल लिया जाता है और फिर उनकी जांच की जाती है. यमुना के वजीराबाद से ओखला बराज तक के बहाव की गुणवत्ता की भी समय समय पर जांच की जाती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आपको बता दें कि दिल्ली जल बोर्ड दिल्ली में पानी के उत्पादन और वितरण की पूरी जिम्मेदारी निभाता है साथ ही सीवर मैनेजमेंट और गंदे पानी के ट्रीटमेंट की जिम्मेदारी भी दिल्ली जल बोर्ड की है.