NDTV Khabar

योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण ने कुमार विश्वास के बयान का किया खंडन, बोले- आप में लौटने की कोई संभावना नहीं

दोनों नेताओं ने आप के किसी नेता या कुमार विश्वास के साथ किसी भी तरह के संपर्क को सिरे से नकार दिया.

289 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण ने कुमार विश्वास के बयान का किया खंडन, बोले- आप में लौटने की कोई संभावना नहीं

योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण की फाइल तस्वीर

नई दिल्ली:

स्वराज इंडिया के प्रमुख योगेंद्र यादव ने आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास के उस बयान को सिरे से खारिज कर दिया है, जिसमें विश्वास ने कहा था कि योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण की आम आदमी पार्टी में वापसी को लेकर बातचीत हो रही है. योगेंद्र यादव ने कहा कि ऐसे किसी भी कदम के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है. प्रशांत भूषण ने भी आप में लौटने की किसी भी संभावना से इनकार किया और दावा किया कि पार्टी ने भ्रष्टाचार-विरोधी आंदोलन के सभी आदर्शों को धोखा दिया है. दोनों नेताओं ने आप के किसी नेता या कुमार विश्वास के साथ किसी भी तरह के संपर्क को सिरे से नकार दिया.

यह भी पढ़ें : केजरीवाल पर योगेंद्र यादव ने साधा निशाना, कहा- आप ने दोहरे खाते रखे, जानकारी छिपाई


टिप्पणियां

योगेंद्र यादव ने कहा, 'मैं बहुत हैरान हूं यह सुनकर कि आप और हमारे बीच इस तरह की बातें हो रही हैं. कम से कम मुझे तो इस बारे में कुछ नहीं पता है. मैंने पिछले दो साल से कुमार विश्वास और अन्य किसी आप नेता से बात नहीं की है. इस बात में कोई दम नहीं है. ये सब महज अटकलें हैं.' योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को मार्च 2015 में कथित रूप से पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से निकाल दिया गया था. उन्होंने आप संयोजक अरविंद केजरीवाल की 'कार्यप्रणाली को सुप्रीमो शैली' कहकर संबोधित किया था और पार्टी में पारदर्शिता की कमी बताया था.

VIDEO : योगेंद्र यादव ने कहा, 'स्वराज इंडिया' ने दिल्ली में नई राजनीति की शुरुआत की
दोनों ने अक्टूबर, 2016 में एक नई राजनीतिक पार्टी स्वराज इंडिया की स्थापना की, जिसने दिल्ली के निगम चुनावों में भाग भी लिया. (इनपुट एजेंसियों से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement