NDTV Khabar

आपका काम ही भाजपा को दिल्‍ली विधानसभा चुनाव जिताएगा : नए पार्षदों से बोले अमित शाह

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
आपका काम ही भाजपा को दिल्‍ली विधानसभा चुनाव जिताएगा : नए पार्षदों से बोले अमित शाह

अमित शाह ने पार्षदों को नसीहत दी कि लोगों ने उन्हें वोट जनता के जीवन में परिवर्तन के लिए दिया है.

खास बातें

  1. हमारे प्रधानमंत्री दौड़ते ही नहीं, बल्कि छलांग लगाते हैं- अमित शाह
  2. अमित शाह दिल्ली में चुने हुए सभी नए पार्षदों से सीधे मुख़ातिब हुए.
  3. इस मौक़े पर उन्होंने दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर भी चुटकी ली.
नई दिल्‍ली: दिल्ली बीजेपी ने मंगलवार को विजय पर्व मनाया, जिसमें सभी नए 181 पार्षदों के साथ पुराने पार्षदों को भी बुलाया गया. इस अवसर पर पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह खुद मौजूद रहे और उन्होंने पार्षदों को नसीहत दी कि उनका काम ही दिल्ली विधानसभा चुनाव बीजेपी को जिताएगा. साथ में पार्षदों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीखने की सलाह दी.

अमित शाह ने कहा कि "हमारे प्रधानमंत्री दौड़ते ही नहीं, बल्कि छलांग लगाते हैं, सभी को उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए." इस तरह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में चुने हुए सभी नए पार्षदों से सीधे मुख़ातिब होते हुए उन्हें प्रधानमंत्री मोदी से सीख लेनी की सलाह दी. इस मौक़े पर केंद्रीय मंत्री विजय गोयल, डॉ. हर्षवर्धन के अलावा प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष मनोज तिवारी सरीखे दिल्ली के बड़े भाजपा नेता भी मौजूद रहे. 

अमित शाह ने पार्षदों को नसीहत दी कि लोगों ने उन्हें वोट जनता के जीवन में परिवर्तन के लिए दिया है. अमित शाह ने कहा कि "आप पार्षद बनकर जा रहे हैं तो ध्यान रखना पड़ेगा कि लोगों ने आपको वोट उनके जीवन में परिवर्तन के लिए दिया है ना कि आपके लिए."  

इस मौक़े पर उन्होंने दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर भी चुटकी ली और कहा कि "केजरीवाल हार के लिए EVM को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं. केजरीवाल जी अगर हार का कारण पता करना है तो हमारे किसी भी बूथ के कार्यकर्ता से मिल लें."

उधर, पार्षदों को भी पता लग गया है कि अमित शाह का इशारा किस तरफ़ था. इसलिए सभी पहले सिर्फ़ काम पर ही ध्यान लगाने की बात कर रहे हैं. मालवीय नगर की पार्षद डॉ. नंदिनी शर्मा का कहना है कि "हमें अध्यक्ष जी की उम्मीदों का पता है, इसलिए हम दिल्ली को साफ़ बनाने के लिए काम करेंगे. यही पीएम मोदी का सपना है." बीजेपी को पता है कि अगर 2 साल बाद दिल्ली में विधानसभा चुनाव जीतना है तो बूथ स्तर के कार्यकर्ता को साथ में जोड़कर रखना चाहती है, इसलिए पार्टी अध्यक्ष खुद सभी से संवाद कर रहे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement