NDTV Khabar

जम्मू कश्मीर : बीजेपी उम्मीदवार हिना भट्ट और जावेद अहमद ने मतदान केंद्रों में किया फसाद

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू कश्मीर : बीजेपी उम्मीदवार हिना भट्ट और जावेद अहमद ने मतदान केंद्रों में किया फसाद
श्रीनगर:

श्रीनगर के अमीराकदल विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार हिना भट्ट पर एक पोलिंग अधिकारी ने वोटिंग के दौरान मारपीट का आरोप लगाया है। पोलिंग अधिकारी के मुताबिक हिना भट्ट ने उन्हें थप्पड़ मारा।

पुलिस ने इस घटना की पुष्टि की है, हालांकि खुद हिना भट्ट इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है। हिना का कहना है कि उन्होंने सिर्फ उस बूथ पर मतदान को रोका, क्योंकि पोलिंग अधिकारी खुद दूसरे लोगों के बदले वोट डाल रहा था।

हिना भट ने कहा, 'हमारे चुनावी एजेंटों को करीब दो घंटे तक परिसर के अंदर नहीं जाने दिया गया। मैं अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगने मतदान केंद्रों पर पहुंची। जब मैं चनपुरा मतदान केंद्र पर पहुंची तब मैंने पाया कि पीठासीन अधिकारी एक महिला मतदाता के साथ ईवीएम के समीप है। इस पर मैंने आपत्ति की जिससे कहासुनी शुरू हो गई।'

हिना भट ने दावा किया कि चुनाव अधिकारियों ने उनके एक कार्यकर्ता को पीटा जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया हैं, उन्होंने पीठासीन अधिकारी के आचरण की चुनाव आयोग से शिकायत की और पुनर्मतदान की मांग की है।

वहीं शोपियां विधानसभा सीट के भाजपा प्रत्याशी जावेद अहमद कादरी आज कैमरे में एक मतदान केंद्र में एक मतदाता के साथ कथित रूप से मारपीट करते हुए नजर आए।

दक्षिण कश्मीर शोपियां में मूचवाद के एक मतदान केंद्र पर कादरी ने चुनावकर्मियों के सामने एक अज्ञात व्यक्ति के साथ कथित मारपीट की। उन्होंने पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस के कार्यकर्ताओं पर चुनाव में धांधली करने का आरोप लगाया।

इस घटना के कैमरे में कैद होने के बाद उन्होंने कहा, 'पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस के कार्यकर्ता तो पिछले 60 साल से इस तरह की हरकतें करते आ रहे हैं।'

नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी द्वारा इन घटनाओं की निंदा किए जाने पर हिना भट ने कहा, 'अगर वे गलत करेंगें तो मैं माफी नहीं मांगूंगी। मैं समझती हूं कि मुझे थप्पड़ मारना चाहिए था।'

इस पर मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने प्रतिक्रिया दी, 'श्रीनगर में भाजपा की जिस उम्मीदवार ने अनुच्छेद 370 (रद्द करने) को लेकर बंदूक उठाने की धमकी दी थी, अब चुनाव अधिकारी को थप्पड़ मारती है। बहुत अच्छा।'

वहीं पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा, 'कारण जो भी हो, उन्हें किसी को थप्पड़ मारने का हक नहीं है। ये घटनाएं निंदनीय और दुर्भाग्यपूर्ण हैं।'

हालांकि श्रीनगर के जिला चुनाव अधिकारी फारूक अहमद भट ने कहा, 'उम्मीदवार और कुछ चुनावकर्मियों के बीच कहासुनी हुई लेकिन मुद्दा सुलझा लिया गया। उम्मीदवार मतदान केंद्र से चली गईं।' (एजेंसी इनपुट के साथ)

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement