सिंगापुर में बारिश भी नहीं रोक पाई आस्‍था का सैलाब, मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल हुए हजारों श्रद्धालु

हर रोज मंदिर में आने वाला पहला व्यक्ति एक चीनी है, जो बड़ा श्रद्धालु है. जब मंदिर के पट खुलते हैं, तो पंक्ति में सबसे पहले वही खड़ा होता है.

सिंगापुर में बारिश भी नहीं रोक पाई आस्‍था का सैलाब, मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल हुए हजारों श्रद्धालु

मंदिर प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  • 5 हजार लोग रोजाना यहां पूजा करने आते हैं
  • हर रोज मंदिर में आने वाला पहला व्यक्ति एक चीनी है, जो बड़ा श्रद्धालु है
  • सिंगापुर के मंदिरों का हर 12 साल में जीर्णोद्धार किया जाता है
नई दिल्ली:

सिंगापुर के चाइनाटाउन में रविवार सुबह भारी बारिश के बावजूद करीब 15 हजार हिन्‍दू श्रद्धालु 94 साल पुराने एक मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल हुए. इस अवसर पर श्री लायन सिथि विनयगर मंदिर में पिछले सात महीने से चल रहा मरम्मत का कार्य भी समाप्त हो गया. मंदिर की मरम्मत में 10 लाख सिंगापुरी डॉलर खर्च हुए. सिंगापुर के मंदिरों का हर 12 साल में जीर्णोद्धार किया जाता है.

यह भी पढ़ें: आगरा की महिला ने शिरडी के साईंबाबा मंदिर में भेंट की 2 किलो सोने की पादुका

सिंगापुर के शिक्षा मंत्री ओंग ये कुंग और सांसद जोआन पेरीरा एपं मुरली पिल्लई भी इस समारोह में शामिल हुए. मंदिर प्रबंधन समिति अध्यक्ष आर एम मुथैया ने बताया कि श्रद्धालु मंदिर के गर्भगृह के 108 चक्कर लगाते हैं. करीब 5 हजार लोग रोजाना यहां पूजा करने आते हैं.

मुथैया ने बताया कि इस मंदिर में वर्षों से विभिन्न संस्कृतियों के श्रद्धालु आते हैं. उन्होंने कहा, "बल्कि हर रोज मंदिर में आने वाला पहला व्यक्ति एक चीनी है, जो बड़ा श्रद्धालु है. जब मंदिर के पट खुलते हैं, तो पंक्ति में सबसे पहले वही खड़ा होता है."

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com