सबरीमाला : SC के फैसले से पहले 36 महिलाओं ने ऑनलाइन कराई बुकिंग, करेंगी मंदिर की यात्रा

शीर्ष कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि 28 सितंबर 2018 के फैसले पर कोई स्टे नहीं है, जिसमें 10 व 50 आयु के बीच की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश के प्रतिबंध को हटा दिया गया है.

सबरीमाला : SC के फैसले से पहले 36 महिलाओं ने ऑनलाइन कराई बुकिंग, करेंगी मंदिर की यात्रा

सबरीमाला तीर्थयात्रा के लिए 36 महिलाओं ने कराया ऑनलाइन पंजीकरण

तिरुवनंतपुरम:

सबरीमाला का दो महीने लंबा सीजन रविवार से शुरू हो रहा है, ऐसे में मंदिर की ऑनलाइन बुकिंग सुविधा के जरिए 36 महिलाओं ने पंजीकरण कराया है. संयोग से यह पंजीकरण सुप्रीम कोर्ट के गुरुवार (14 नवंबर) के फैसले से पहले हुआ है. सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर व दूसरी धार्मिक जगहों पर महिलाओं के प्रवेश के मुद्दे को गुरुवार को सात न्यायाधीशों की बड़ी पीठ को भेज दिया.

शीर्ष कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि 28 सितंबर 2018 के फैसले पर कोई स्टे नहीं है, जिसमें 10 व 50 आयु के बीच की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश के प्रतिबंध को हटा दिया गया है. इसके मायने हैं कि सभी आयु वर्ग की महिलाएं बड़ी पीठ का फैसला आने तक मंदिर की यात्रा कर सकती हैं.

बीते सीजन में प्रतिबंधित आयु वर्ग की 740 महिलाओं ने पंजीकरण कराया था.

सबरीमाला से जुड़ी और खबरें...

सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, पढ़ें- 10 खास बातें

सबरीमाला के साथ मुस्लिम और पारसी महिलाओं से भेदभाव पर भी होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला केस को 7 जजों की संविधान बेंच के पास भेजा

VIDEO: अब 7 जजों की बेंच के हवाले सबरीमला मामला

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com