जम्मू से 132 तीर्थयात्री अमरनाथ के लिए रवाना

जम्मू से कश्मीर घाटी के लिए तीर्थयात्रियों का आखिरी जत्था पांच अगस्त को रवाना होगा और इसके बाद सात अगस्त को समाप्त हो रही वार्षिक अमरनाथ यात्रा के तहत किसी भी यात्री को घाटी की ओर जाने की अनुमति नहीं होगी. 

जम्मू से 132 तीर्थयात्री अमरनाथ के लिए रवाना

कश्मीर घाटी के लिए शुक्रवार को 132 अमरनाथ तीर्थयात्रियों का नया जत्था जम्मू से रवाना हुआ. अधिकारी के अनुसार, तीर्थयात्रियों का जत्था तड़के 2.55 बजे कड़ी सुरक्षा के बीच पांच वाहनों के काफिले में रवाना हुआ. पुलिस महानिरीक्षक (आईडीपी) एस.डी सिंह जामवाल ने कहा कि जम्मू से कश्मीर घाटी के लिए तीर्थयात्रियों का आखिरी जत्था पांच अगस्त को रवाना होगा और इसके बाद सात अगस्त को समाप्त हो रही वार्षिक अमरनाथ यात्रा के तहत किसी भी यात्री को घाटी की ओर जाने की अनुमति नहीं होगी. 

40 दिनों की यह वार्षिक यात्रा 29 जून से शुरू हुई थी और यह सात अगस्त को श्रावण पूर्णिमा के अवसर पर समाप्त होगी. इसी दिन रक्षाबंधन भी है. 
=========
Raksha Bandhan 2017: इस रक्षा बंधन पर भाई के लिए 5 बेहतरीन राखी गिफ्ट आइडिया ये रहे...

Friendship Day 2017: तो इस तरह से हुई फ्रेंडशिप डे की शुरुआत

मयूरासन: एक योगासन जो करे शुगर प्रॉब्लम की छुट्टी और लाए फेस पर ग्लो 

चाहते हैं यादगार और मजेदार ट्रिप, तो आपकी तमन्ना को पूरा करेंगे ये अनोखे होटल
=========

अमरनाथ यात्रियों के लिए बालटाल और पहलगाम दोनो मार्गो पर हेलीकॉप्टर सेवाएं उपलब्ध हैं. अब तक करीब 2,57,589 लाख श्रद्धालु अमरनाथ यात्रा कर चुके हैं.

तीर्थयात्री पवित्र गुफा तक पहुंचने के लिए 46 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग या 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग का इस्तेमाल करते हैं. 

इस साल इस यात्रा के दौरान 48 श्रद्धालुओं की मौत हुई है. इनमें से आठ की मौत आतंकवादी हमले में और 17 की सड़क दुर्घटना में हुई, जबकि 23 श्रद्धालुओं की मौत स्वाभाविक कारणों से हुई.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com