Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बौद्ध अध्ययन, दर्शनशास्त्र के बारे में पढ़ाएगा नालंदा विश्वविद्यालय

नालंदा जिले में बौद्ध तीर्थ स्थल राजगीर में स्थित इस विश्वविद्यालय का पहला शैक्षणिक सत्र एक अस्थायी परिसर में 2014 में शुरू हुआ था.

बौद्ध अध्ययन, दर्शनशास्त्र के बारे में पढ़ाएगा नालंदा विश्वविद्यालय

नालंदा विश्वविद्यालय वैदिक अध्ययन शुरू करने की योजना बना रहा है. योग जैसे विषयों में भी संक्षिप्त अवधि का पाठ्यक्रम शुरू करने की संभावना है. नालंदा विश्वविद्यालय की कुलपति सुनयना सिंह ने एक बयान में कहा, "मौजूदा स्कूलों के भीतर, हम नए विभाग बनाएंगे."

कुलपति ने कहा, "उदाहरण के तौर पर बौद्ध अध्ययन, दर्शनशास्त्र और तुलनात्मक धर्म के स्कूल में हमारी योजना वैदिक अध्ययन, भारतीय आध्यात्म परंपरा और शांति अध्ययन शुरू करने की है."

सिंह ने नालंदा विश्वविद्यालय को भारत, एशिया और एशिया-प्रशांत देशों के बीच एक बौद्धिक पुल बताया और कहा कि पश्चिमी देश भारत को एक समाधान केंद्र के रूप में देखते हैं. 

सिंह ने कहा, "भारतीय ज्ञान प्रणाली को फैलाने की जरूरत है."

उन्होंने कहा, "विश्वविद्यालय योग और संचेतना जैसे विषयों में भी संक्षिप्त अवधि के पाठ्यक्रम शुरू कर सकता है." 

कुलपति के अनुसार, विश्वविद्यालय को अकादमिक उत्कृष्टता के लिए अधिक स्कूल और विभाग स्थापित करने की आवश्यकता है.

उन्होंने कहा, "भाषा एवं साहित्य स्कूल तथा अंतराष्ट्रीय संबंध एवं शांति अध्ययन स्कूल पर हम आगे ध्यान केंद्रित करेंगे."

बिहार के नालंदा जिले में बौद्ध तीर्थ स्थल राजगीर में स्थित इस विश्वविद्यालय का पहला शैक्षणिक सत्र एक अस्थायी परिसर में 2014 में शुरू हुआ था.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)