NDTV Khabar

गुरु ग्रंथ साहिब के अखंड पाठ के साथ फतेहगढ़ साहिब में वार्षिक ‘शहीदी जोड़ मेला’ शुरू

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुरु ग्रंथ साहिब के अखंड पाठ के साथ फतेहगढ़ साहिब में वार्षिक ‘शहीदी जोड़ मेला’ शुरू

शहीदी जोर मेले का समापन 28 दिसंबर होगा (फाईल फोटो)

टिप्पणियां

पंजाब के फतेहगढ़ साहिब में लगने वाला तीन दिवसीय वार्षिक ‘शहीदी जोड़ मेला’ गुरुद्वारा ज्योति स्वरूप में गुरु ग्रंथ साहिब के अखंड पाठ के साथ कल शुरु हो गया। इस मेले में शिरकत करने और गुरद्वारा फतेहगढ़ साहिब में मत्था टेकने के लिए पंजाब सहित पूरे देश से भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। इस मेले का समापन 28 दिसंबर होगा।
 
गुरुद्वारा ज्योति स्वरूप के अधिकारियों ने बताया, "यह मेला गुरु गोविंद सिंहजी के दो बेटों, जोरावर सिंह और फतेह सिंह, की शहादत को याद करने के लिए मनाया जाता है, जिनको मुगल बादशाह औरंगजेब के शासन काल में जिंदा चुनवा दिया गया था। यह मेला हर साल दिसंबर महीने के चौथे सप्ताह में आयोजित किया जाता है।" अधिकारियों ने बताया कि मेले के तीसरे दिन यानी28 दिसंबर को ‘नगर कीर्तन’ को गुरद्वारा श्री फतेहगढ़ साहिब से गुरुद्वारा ज्योति स्वरूप ले जाया जाएगा।

सुरक्षा के व्यापक इंतजाम, अंबाला से स्पेशल ट्रेन
 
फतेहगढ़ साहिब के एसएसपी जतिंदर सिंह खरा ने बताया, "इस मेले के लिएसुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गये हैं। किसी भी तरह की असामाजिक गतिविधि को रोकने के लिए अत्याधुनिक हथियारों से लैस पुलिस बलों की तैनाती की गयी है।"
 
फतेहगढ़ साहिब जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए 27 दिसंबर को अंबाला रेलवे स्टेशन से स्पेशल पैसेंजर ट्रेन चलाई गयी, जो अंबाला से सुबह साढ़े दस बजे रवाना हुई। यही ट्रेन 28 दिसंबर को फतेहगढ़ साहिब से दिन में 12:20 बजे अंबाला के लिए रवाना होगी।




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement