NDTV Khabar

बद्रीनाथ धाम के कपाट खुले, मंदिर के गर्भगृह में स्थापित हुई भगवान बद्री की मूर्ति

मंदिर अब अगले छह माह तक खुला रहेगा और उसके बाद एक धार्मिक रिवाज के तहत मूर्ति को जोशीमठ शहर के नरसिंह मंदिर ले जाया जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बद्रीनाथ धाम के कपाट खुले, मंदिर के गर्भगृह में स्थापित हुई भगवान बद्री की मूर्ति

बद्रीनाथ धाम के कपाट खुले

देहरादून:

उत्तराखंड की गढ़वाल पहाड़ियों में स्थित बद्रीनाथ धाम के कपाट वैदिक मंत्रोच्चारण व अनुष्ठानों के बाद श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए.

भगवान बद्री (विष्णु) की मूर्ति को मंदिर के गर्भगृह में स्थापित किया गया. इससे पहले मूर्ति को यहां 'जय बद्री विशाल' के जयकारों के बीच धार्मिक जुलूस में लाया गया.

इस मंदिर के पास है 9000 किलो से ज्यादा सोना, हर साल होती है हज़ारों करोड़ की आमदनी

भगवान विष्णु की पूजा करने के बाद मुख्य पुजारी ने धाम के कपाट खोले। मंदिर को फूलों से सजाया गया था.

पहले दिन, करीब 10,000 श्रद्धालुओं ने दर्शन किए.

केदारनाथ के कपाट खुले, 'हर हर महादेव' के जयकारों से गूंजी घाटी


टिप्पणियां

मंदिर अब अगले छह माह तक खुला रहेगा और उसके बाद एक धार्मिक रिवाज के तहत मूर्ति को जोशीमठ शहर के नरसिंह मंदिर ले जाया जाएगा.

चारों हिंदू धामों बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के खुलने से श्रद्धालुओं के बीच चारधाम यात्रा को लेकर खासा उत्साह है. प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालु इन चारों धामों का दर्शन कर रहे हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement