NDTV Khabar

इस वजह से बदरीनाथ मंदिर की छत को सोने की नहीं बना सकेंगे गुप्‍ता ब्रदर्स

बदरीनाथ मंदिर के गर्भगृह की छत पर सोने की परत चढाने का प्रस्ताव देने वाले गुप्ता बंधुओं पर आपराधिक मामले चल रहे हैं और उनकी जांच प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस वजह से बदरीनाथ मंदिर की छत को सोने की नहीं बना सकेंगे गुप्‍ता ब्रदर्स

बदरीनाथ मंदिर के गर्भगृह की छत पर सोने की परत चढ़ाना चाहते थे गुप्‍ता ब्रदर्स

खास बातें

  1. गुप्‍ता ब्रदर्स बदरीनाथ धाम को दान देने के इच्‍छुक थे
  2. दोनों भाइयों पर भ्रष्‍टाचार के मामले चल रहे हैं
  3. इन मामलों को देखते हुए मंदिर समिति ने सरकार से राय मांगी है
देहरादून: कथित भ्रष्टाचार के मामले में प्रवर्तन निदेशालय की जांच का सामना कर रहे विवादित गुप्ता बंधुओं द्वारा बदरीनाथ मंदिर के गर्भगृह की छत पर सोने की परत चढ़ाने के प्रस्ताव पर बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति ने उत्तराखंड सरकार से दिशा-निर्देश देने का आग्रह किया है.

तुंगनाथ के खुले कपाट, भक्त कर सकेंगे भगवान तुंगनाथ के दर्शन

मंदिर समिति के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि उन्हें पता चला है कि बदरीनाथ मंदिर के गर्भगृह की छत पर सोने की परत चढाने का प्रस्ताव देने वाले गुप्ता बंधुओं पर आपराधिक मामले चल रहे हैं और उनकी जांच प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है.

उन्होंने कहा, 'इन जानकारियों के मददेनजर मैंने समिति का गठन करने वाले राज्य सरकार के धर्मस्व संस्कृति विभाग को एक पत्र लिखा है और उन्हें इस प्रस्ताव की जानकारी प्रवर्तन निदेशालय को देने का आग्रह किया है. साथ ही मैंने उनसे समिति को ये दिशा निर्देश भी देने का आग्रह किया है कि अगर गुप्ता बंधु अपने प्रस्ताव के अनुरूप मंदिर में दान चढ़ाने आते हैं तो उसे स्वीकार किया जाए या नहीं.' 

हांलाकि, गोदियाल ने साफ किया कि गुप्ता बंधुओं द्वारा पिछले साल दिए प्रस्ताव के बाद से आज तक समिति से इसे लेकर कोई संपर्क नहीं किया गया है कि वह मंदिर में दान कब चढाना चाहते हैं.

मंदिर समिति के अध्यक्ष ने कहा कि गुप्ता बंधु पिछले साल बदरीनाथ के दर्शन के लिए आए थे और वहां आयोजित एक कथा में सम्मिलित हुए थे और तभी उन्होंने बदरीनाथ और केदारनाथ मंदिरों के गर्भगृहों की छतों को सोने का बनाने का प्रस्ताव दिया था.

उन्होंने बताया कि मंदिर समिति के बोर्ड की बैठक ने पिछले साल 27 नवंबर को यह प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित कर दिया था और उस समय गुप्ता बंधुओं पर किसी आरोप की समिति को कोई सूचना नहीं थी. इस साल मई में गुप्ता बंधुओं के दान चढ़ाने आने की चर्चाओं के संबंध में गोदियाल ने कहा कि आगामी 15 मई से बदरीनाथ में वही कथा शुरू हो रही है और शायद इसी वजह से इन चर्चाओं ने जोर पकड़ा है.

टिप्पणियां
गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका के राष्टपति जैकब जुमा के करीबी रहे गुप्ता बंधु त्रय-अजय, राजेश और अतुल कथित भ्रष्टाचार के आरोपों में प्रवर्तन निदेशालय की जांच का सामना कर रहे हैं. मूल रूप से उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के रहने वाले गुप्ता बंधुओं के कई ठिकानों पर आयकर विभाग ने भी छापे मारे हैं.

इनपुट: भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement