हरिद्वार: Coronavirus के चलते गंगा आरती में लोगों के शामिल होने पर 31 मार्च तक लगाई गई रोक

लोगों की सुविधा के लिए गंगा सभा, आरती की लाइव स्ट्रीमिंग करेगी जिसे श्रद्धालु इंटरनेट पर देख सकेंगे. 

हरिद्वार: Coronavirus के चलते गंगा आरती में लोगों के शामिल होने पर 31 मार्च तक लगाई गई रोक

गंगा आरती में लोगों के शामिल होने पर 31 मार्च तक लगाई गई रोक.

हरिद्वार:

उत्तराखंड में कोरोना वायरस (Coronavirus) के फैलाव को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने बुधवार को यहां हर की पौड़ी पर रोजाना होने वाली गंगा आरती में आम लोगों के शामिल होने पर 31 मार्च तक रोक लगा दी.

जिलाधिकारी सी रविशंकर द्वारा यहां जारी एक आदेश में कहा गया कि हर की पौड़ी पर होने वाली आरती गंगा सभा के पदाधिकारियों द्वारा नियमित रूप से की जायेगी. हालांकि कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर 19 मार्च से 31 मार्च तक इसमें आम लोगों की भागीदारी प्रतिबंधित रहेगी.

लोगों की सुविधा के लिए गंगा सभा, आरती की लाइव स्ट्रीमिंग करेगी जिसे श्रद्धालु इंटरनेट पर देख सकेंगे. आपको बता दें, कोरोना वायरस के फैलने के कारण सरकार द्वारा एडवाजरी जारी की गई है. इसमें भीड़-भाड़ वाले इलाकों में अधिक लोगों के इक्ट्ठा होने से भी मना किया गया है और इसी को देखते हुए अधिकतर मदिंरों, गुरुद्वारों में लोगों को आने से मना किया जा रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गौरतलब है कि इससे पहले आंध्रप्रदेश के तिरुपति तिरुमाला में भी श्रद्धालुओं को लाइन में खड़े होने से मना कर दिया गया है. हालांकि, लोग फिलहाल टोकर के जरिए दिए गए वक्त पर तिरुपति बालाजी के दर्शन कर सकते हैं. वहीं शिरडी में भी लोगों को फिलहाल अपनी यात्राएं स्थगित करने के निर्देश दिए गए हैं.

इतना ही नहीं जम्मू-कश्मीर में स्थित माता वैष्णो देवी के दर्शन भी कुछ वक्त के लिए रोक दिए गए हैं.