बंगाली संगठनों ने योगी से उत्तर प्रदेश में दुर्गा पूजा की अनुमति देने का किया आग्रह

पश्चिम बंगाल में दो संगठनों ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से उत्तरी राज्य में कोविड—19 प्रोटोकॉल के अनुपालन के साथ दुर्गा पूजा की अनुमति देने का आग्रह किया है.

बंगाली संगठनों ने योगी से उत्तर प्रदेश में दुर्गा पूजा की अनुमति देने का किया आग्रह

बंगाली संगठनों ने योगी से उत्तर प्रदेश में दुर्गा पूजा की अनुमति देने का किया आग्रह

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल में दो संगठनों ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से उत्तरी राज्य में कोविड—19 प्रोटोकॉल के अनुपालन के साथ दुर्गा पूजा की अनुमति देने का आग्रह किया है. आदित्यनाथ ने सोमवार को एक समीक्षा बैठक में कोविड—19 स्थिति के मद्देनजर अधिकारियों को आगामी त्यौहारों के मौसम में सभी एहतियाती उपाय करने का निर्देश दिया था. राज्य सरकार की ओर से जारी बयान में इसकी जानकारी दी गयी है. हालांकि, कुछ मीडिया में आयी रिपोर्टों में दावा किया गया है कि लोगों के बड़े पैमाने पर जमा होने से रोकने के लिये उत्तर प्रदेश में इस साल दुर्गा पूजा और दिवाली के आयोजन की अनुमति उत्तर प्रदेश में नहीं दी जायेगी जबकि कोविड—19 प्रोटोकॉल के सख्ती से पालन के साथ रामलीला की अनुमति दी गयी है.

पश्चिम बंगाल में सुरक्षा का ध्यान रखते हुए सादगी से दुर्गा पूजा मनाने की तैयारियां तेज

इस खबर का हवाला देते हुये बंगाली संगठन बांग्ला पोक्कहो ने बयान जारी कर कहा, कि कोविड—19 (Covid 19) सुरक्षा प्रोटोकॉल के पालन के साथ हम दुर्गा पूजा की अनुमति दिये जाने की मांग करते हैं. इसमें कहा गया है कि हमारा आग्रह है कि उत्तर प्रदेश प्रशासन दुर्गा पूजा समारोह को नहीं रोके. एक अन्य संगठन जातीय बांग्ला सम्मेलन के प्रवक्ता सिद्धार्थ दास ने सोशल मीडिया पर किये अपने पोस्ट में कहा है, ' क्या दुर्गा पूजा उत्तर प्रदेश में प्रतिबंधित कर दिया गया है, क्योंकि हम हिंदू राष्ट्र बनने के रास्ते पर हैं ?" उन्होंने कहा कि दुर्गा पूजा और रामलीला के लिये समान नियम होने चाहिये.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com