NDTV Khabar

बोधगया में पवित्र महाबोधि वृक्ष की शाखा टूट कर गिरी

टूट कर गिरी हुई शाखा को मंदिर प्रबंधन समिति के मुख्य पुजारी सहित अन्य पुजारियों के समक्ष वीडियोग्राफी कराकर समिति के स्टोर रूम में सुरक्षित रख दिया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बोधगया में पवित्र महाबोधि वृक्ष की शाखा टूट कर गिरी

बौद्ध धर्म के पवित्र तीर्थस्थली और विश्व के प्रसिद्ध पर्यटनस्थलों में से एक बिहार के बोधगया के पवित्र महाबोधि मंदिर परिसर में अवस्थित महाबोधि वृक्ष की एक शाखा शनिवार को टूट कर गिर गई. गिरी हुई शाखा को सुरक्षित रख दिया गया है. महाबोधि मंदिर के केयर टेकर दीनानंद भंते ने आईएएनएस को बताया कि शनिवार को दोपहर करीब डेढ़ बजे पवित्र महाबोधि वृक्ष की एक शाखा टूटकर गिर गई. उन्होंने बताया कि टूट कर गिरी हुई शाखा को मंदिर प्रबंधन समिति के मुख्य पुजारी सहित अन्य पुजारियों के समक्ष वीडियोग्राफी कराकर समिति के स्टोर रूम में सुरक्षित रख दिया गया है.

उन्होंने कहा कि जिस वक्त पवित्र महाबोधि वृक्ष की शाखा गिरी थी, वहां श्रद्धालुओं की संख्या काफी कम थी, इसलिए इससे किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है. 

 

उल्लेखनीय है कि देहरादून वन अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिक बोधिवृक्ष की देखरेख करते हैं. कुछ दिनों पूर्व ही वैज्ञानिकों का एक दल इस वृक्ष की देखरेख कर वापस गया था.

टिप्पणियां

मान्यता है कि इसी महाबोधि वृक्ष के नीचे राजकुमार सिद्धार्थ ने कठिन तपस्या कर ज्ञान प्राप्त किया और महात्मा बुद्ध बन गए थे. इस पवित्र महाबोधि वृक्ष को देखने के लिए प्रत्येक वर्ष देश-विदेश से लाखों लोग बोधगया आते हैं. मान्यता है कि यह वृक्ष 2650 साल पुराना है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement